लेखक परिचय

प्रवक्‍ता ब्यूरो

प्रवक्‍ता ब्यूरो

Posted On by &filed under प्रवक्ता न्यूज़.


नई दिल्ली। आने वाले दो से तीन साल में ब्रिटेन से भारतीय मूल के करीब 25000 चिकित्सक भारत वापस लौटगें और इसमें से कुछ के केन्द्र सरकार द्वारा प्रस्तावित अखिल भरतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) जैसे सात नए अस्पतालों में काम करने की संभावना है।  ब्रिटिश एसोसिशन ऑफ फिजिशियन ऑफ इंडियन ओरिजिन के अध्यक्ष रमेश मेहता के अनुसार ब्रिटेन के विभिन्न हिस्सों में करीब 15000 युवा चिकित्सक प्रशिक्षण हासिल कर रहे है, जो शिक्षा पूरी करने के बाद भारत लौटगे।
ब्रिटिन में नौकरी से अवकाश लेने वाले भारतीय डॉक्टर की संख्या भी करीब १०००० के आस पास है, ये अवकाश प्राप्त वरिष्ठ डॉक्टर भी भारत लौटनें की तैयारी में है। रमेश मेहता %E

Comments are closed.