लेखक परिचय

डा. राधेश्याम द्विवेदी

डा. राधेश्याम द्विवेदी

Library & Information Officer A.S.I. Agra

Posted On by &filed under महत्वपूर्ण लेख, राजनीति.


ravendra jiडा. राधेश्याम द्विवेदी
स्वतंत्रता दिवस का इतिहास:-17वीँ शताब्दी के दौरान कुछ यूरोपियन व्यापारियों द्वारा भारतीय उपमहाद्वीप के सीमा चौकी पर प्रवेश किया ब्रिटीश ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा भारत को गुलाम बना लिया ।18 शताब्दी के दौरान पूरे भारत में अंग्रेजों ने अपना स्थानीय साम्राज्य और असरदार ताकत स्थापित कर लिया था। 1857 में ब्रिटीश शासन के खिलाफ भारत के लोगों द्वारा एक बहुत बड़े स्वतंत्रता क्रांति की शुरुआत हो चुकी थी। उस गदर को महान गदर, 1857 का विद्रोह, भारतीय बगावत, 1857 का पठान और सिपाहीयों का विद्रोह आदि कहा जाता है । 10 मई 1857 में बंगाल प्रांत में ब्रिटीश ईस्ट इंडिया कंपनी आर्मी के खिलाफ इसकी शुरुआत हो गई। उस विद्रोह के द्वारा (1858 का अधिनियम भारत सरकार), भारत को नियंत्रण मुक्त करने का एहसास ब्रिटीश राज को भारतीय स्वतंत्रता सेनानीयों ने दिलाया। पूरे राष्ट्र में असंतोष और उदासी के काल ने अहिंसात्मक आंदोलनों (असहयोग और सविनय अवज्ञा आंदोलन) को बढ़ावा दिया जिसका नेतृत्व गाँधी जी ने किया।लाहौर में 1929 में भारतीय राष्ट्रीय काँग्रेस अधिवेशन में, भारत ने पूर्ण स्वराज की घोषणा की। इसके पहले, 1930 से 1947 के बीच भारतीय स्वतंत्रता दिवस के रुप में 26 जनवरी को घोषित किया गया। सविनय अवज्ञा आंदोलन के लिये भारतीय राष्ट्रीय काँग्रेस द्वारा भारतीय नागरिकों से निवेदन किया गया था साथ ही साथ भारत के पूर्ण स्वतंत्रता तक आदेशों का पालन समय से करने के लिये भी कहा गया। भारत की आजादी (15 अगस्त 1947) के बाद हिन्दू-मुस्लिम दंगे हुए जिसने भारत और पाकिस्तान को अलग कर दिया। मोहम्मद अली जिन्ना पाकिस्तान के प्रथम गवर्नर जनरल बने जबकि पंडित जवाहर लाल नेहरु आजाद भारत के प्रथम प्रधानमंत्री। दिल्ली, देश की राजधानी में एक आधिकारिक समारोह रखा गया जहाँ सभी बड़े नेता और स्वतंत्रता सेनानियों ने इसमें भाग लेकर आजादी का पर्व मनाया। संवैधानिक हॉल, नई दिल्ली में राष्ट्रपति राजेन्द्र प्रसाद के नेतृत्व में 14 अगस्त को 11 बजे रात को संवैधानिक सभा की 5वीं मीटींग रखी गई थी जहाँ जवाहर लाल नेहरु ने अपना भाषण दिया था। 15 अगस्त 1947 की मध्यरात्री, जवाहर लाल नेहरु ने भारत को स्वतंत्र देश घोषित किया जहाँ उन्होंने “ट्रीस्ट ओवर डेस्टिनी” भाषण दिया था। इसके बाद, असेंबली सदस्यों ने पूरी निष्ठा से देश को अपनी सेवाएँ देने के लिये कसम खायी। भारतीय महिलाओं के समूह द्वारा असेंबली को आधिकारिक रुप से राष्ट्रीय ध्वज प्रस्तुत किया था। अतत: भारत आधिकारिक रुप से स्वतंत्र देश हो गया, और नेहरु तथा वाइसराय लार्ड माउंटबेटन, क्रमश: प्रधानमंत्री और गवर्नर जनरल बने।
स्वतंत्रता दिवस उत्सव :-भारत के राष्ट्रीय अवकाश के रुप में पूरे भारत में स्वतंत्रता दिवस को मनाया जाता है। इसे हर साल प्रत्येक राज्य और केन्द्र शासित प्रदेशों में पूरे उत्सुकता से देखा जाता है। स्वतंत्रता दिवस के एक दिन पहले की शाम को “राष्ट्र के नाम संबोधन” में हर साल भारत के राष्ट्रपति भाषण देते है। 15 अगस्त को देश की राजधानी में पूरे जुनून के साथ इसे मनाया जाता है जहाँ दिल्ली के लाल किले पर भारत के प्रधानमंत्री झंडा फहराते है। ध्वजारोहण के बाद, राष्ट्रगान होता है, 21 तोपों की सलामी दी जाती है तथा तिरंगे और महान पर्व को सम्मान दिया जाता है। स्वतंत्रता सेनानियों और भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के नेताओँ जिन्होंने अपने प्राणों की आहुति दी थी को श्रद्धांजलि देने के बाद, स्वतंत्रता दिवस पर अपने भाषण के दौरान भारत के प्रधानमंत्री पिछले साल की उपलब्धियों, महत्पूर्ण सामाजिक मुद्दे और उनके हल, देश के आगे का विकास, शिक्षा आदि को रेखांकित करते है। पैरामिलीट्री फोर्सेस और भारतीय सैनिकों द्वारा भव्य मार्च पास्ट किया जाता है। विभिन्न सांस्कृतिक परंपरा के अलग-अलग राज्य में स्वतंत्रता दिवस का उत्सव मनाया जाता है जहाँ हर राज्य का मुख्यमंत्री राष्ट्रीय झंडे को फहराता है जोकि प्रतिभागियों द्वारा विभिन्न सांस्कृतिक क्रिया-कलापों द्वारा लहराया जाता है।
भारत की 70 उपलब्धियां:-भारत देश 70वां स्वतंत्रता दिवस का जश्न मना रहा है. पीएम मोदी ने लालकिले से तिरंगा फहराने के बाद देश को संबोधित करते हुए कहा कि एक भारत श्रेष्ठ भारत के सपने को पूरा करना चाहिए. इसके लिए हर आदमी को अपनी जिम्मेदारी निभानी होगी. अगर देश के पास समस्याएं हैं तो सामर्थ्य भी है. आजादी का पर्व देश को नई ऊंचाइयों पर ले जाने का पर्व है. हम महात्मा गांधी, सरदार पटेल, पंडित नेहरू और अनगिनत लोगों को याद करते हैं जिन्होंने स्वराज हासिल करने के लिए अपनी जान की कुर्बानी दे दी.

70वां स्वतंत्रता दिवस के इस मौके पर आज़ादी से अब तक की वह 70 महान उपलब्धियां जानिए जो देश की छवि में सकारात्मक बदलाव लेकर आईं है।.
1. 1947 में आज़ादी हासिल करने के एक साल बाद भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने 1948 के लंदन ओलिंपिक्स में स्वर्ण पदक जीता.
2. 1949 में मुथम्मा बेलियप्पा भारतीय प्रशासनिक परीक्षा पास करने वाली पहली महिला हुईं.
3. 1950 में भारत पूर्ण रूप से गणतंत्र देश घोषित हुआ.
4.1951 में भारत ने एशियाई खेलों के पहले संस्करण की मेजबानी की.
5. 1952 में भारत में स्वतंत्रता के बाद पहली बार चुनाव हुए जिसमें 17 करोड़ से ज्यादा लोगों ने मतदान दिया.
6. 1953 में इंडियन एयरलाइन्स की स्थापना हुई.
7. 1954 में भारत, ट्रॉम्बे में एटमी ऊर्जा कार्यक्रम को लॉन्च करने वाला पहला देश बना.
8. 1955 में भारत ने अपना पहला कम्प्यूटर HEC 2M इन्सटॉल किया.
9. 1956 में भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने मेलबर्न ओलिंपिक्स में फिर गोल्ड जीता.
10. 1957 में आरती साहा इंग्लिश चैनल पार करने वाली पहली एशियाई महिला बनीं.
11. 1958 में भारतीय प्रोद्यौगिकी संस्थान (IIT)ने शिक्षा के क्षेत्र में गुणवत्ता की नई परिभाषा गढ़ी.
12. 1959 में सत्यजीत रे की आपुर संसार ने भारतीय सिनेमा को अंतरराष्ट्रीय मंच पर एक नई पहचान दी. 13. 1960 के ओलिंपिक में मिल्खा सिंह रिकॉर्ड तोड़ने वाले पहले भारतीय हुए.
14. 1961 में भारत ने गुट निरपेक्ष देशों की पहली बैठक में नेतृत्व की कमान संभाली.
15. 1962 के एशियाई खेलों में भारतीय फुटबॉल टीम ने स्वर्ण जीतकर सबसे ऊंची रैंकिंग हासिल की.
16. 1963 में प्रधानमंत्री नेहरू ने बाखरा-नंगल बांध प्रोजेक्ट को ‘आधुनिक भारत का मंदिर’ कहते हुए उसे देश के नाम समर्पित किया.
17. 1964 में भारत का पहला जेट ट्रेनर HJT-16 ने उड़ान भरी.
18. अनाज के लिए बाहरी निर्भरता से मुक्ति पाने के लिए 1965 में हरित क्रांति की शुरूआत हुई.
19.1966 में रीता फारिया विश्व सुंदरी का खिताब जीतने वाली पहली भारतीय हुईं.
20. 1967 में पंडित रवि शंकर ने भारत की ओर से पहला ग्रैमी अवॉर्ड जीता.
21.1968 में डॉ प्रफुल्ल सेन, हृदय प्रत्यारोपण सर्जरी करने वाले दुनिया के तीसरे और एशिया के पहले डॉक्टर बने.
22. 1969 में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO)की स्थापना हुई.
23. 1971 में भारत ने बांग्लादेश को पाकिस्तान से आज़ादी दिलवाने के लिए सैन्य हस्तक्षेप किया.
24. भारत के सबसे सफल पशु बचाओ कार्यक्रम, प्रोजेक्ट टाइगर की शुरूआत 1973 में हुई थी.
25. 1974 में भारत ने शांतिपूर्ण तरीके से परमाणु परिक्षण किया जिसने दुनिया को चकित कर दिया लेकिन इसने भारत के परमाणु ऊर्जा कार्यक्रम को एक गति दी.
26. 1975 में आर्यभट्ट के प्रक्षेपण ने भारत को उन चुनिंदा देशों के समूह में शामिल कर दिया जिनका अपना सैटेलाइट है.
27.भारत में सामाजिक न्याय को हासिल करने के लिए 1976 में बंधुआ मजदूर की प्रथा को समाप्त कर दिया गया. 28. 1977 में मेलबर्न में माइकल फरेरा विश्व बिलियार्ड्स चैंपियनशिप जीती.
29. 1978 में भारत की पहली टेस्ट ट्यूब बेबी दुर्गा का जन्म हुआ.
30. 1979 में भारतीय सुप्रीम कोर्ट ने जनहित याचिका को वैध करार दिया, यह दुनिया में न्यायिक नवीनता के महत्वपूर्ण उदाहरणों में से एक है.
31.1980 में चेचक की बीमारी से निपटने के लिए भारत ने सबसे लंबे टीकाकरण कार्यक्रम में से एक ही शुरूआत की.
32. 16 साल की कड़ी मेहनत के बाद 1981 में भारतीय वैज्ञानिकों ने अपनी पहली दवा ट्रोमैरिल तैयार की.
33. 1982 में नई दिल्ली में भारत ने एशियाड खेलों की मेज़बानी संभाली.
34. 1983 में कपिल देव की अगुवाई में भारतीय टीम ने विश्व कप जीता.
35. 1984 में राकेश स्पेस में कदम रखने वाले पहले भारतीय अंतरिक्ष यात्री बने.
36. 1985 में भारत फास्ट ब्रीडर न्यूकलियर रिएक्टर हासिल करने वाला छठवां देश बना.
37. 1986 के एशियाई खेलों में पीटी उषा ने ऐतिहासिक जीत दर्ज करने के दौरान रिकॉर्ड धराशायी किए. 38. 1987 में सुनिल गावस्कर टेस्ट मैच में 10 हज़ार रन स्कोर करने वाले पहले क्रिकेटर बने. 39. 1988 में एशिया का पहला रिमोट सेंसिंग सैटेलाइट IRS-1A लॉन्च करके इसरो ने अपने आलोचकों का मुंह बंद किया.
40. 1989 में केरल का कोट्टायम भारत का पहला पूर्ण साक्षर जिला घोषित किया गया.
41. 1990 में कुवैत और इराक़ से 1 लाख 10 हज़ार भारतीयों को बाहर निकाला गया जो दुनिया का अब तक का सबसे बड़ा नागिरकों को बाहर निकालने का प्रयास माना जाता है.
42. 1991 में भारत ने आर्थिक संकट से निपटने के लिए कई सुधार कार्यक्रमों की घोषणा की.
43. इसके ठीक दो साल बाद 1993 में अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने भारत को दुनिया की छठीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बताया.
44. 1993 में फिल्मकार सत्यजीत रे को अपने सिनेमा के लिए ऑस्कर से नवाज़ा गया.
45. 1994 में सुष्मित सेन और ऐश्वर्या राय ने भारत की ओर से मिस यूनिवर्स और मिस वर्ल्ड का ताज़ जीता. 46. 1995 में भारत ने इंटरनेट पर पहली बार लॉग इन किया.
47. 1996 के अटलांटा ओलिंपिक्स में 23 साल के लिएंडर पेस ने कांस्य पदक जीता. यह 44 साल में भारत का पहला एकल पदक था.
48. 1997 में अरुंधती रॉय ने अपनी किताब ‘दि गॉड ऑफ स्मॉल थिंग्स’ के लिए बुकर पुरस्कार जीता.
49. अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन ने 1998 में नोबल पुरस्कार जीता, वह यह सम्मान हासिल करने वाले छठें भारतीय थे. 50. 1999 में न्यूयॉर्क के नास्डैक में लिस्ट होने वाली इंफोसिस पहली भारतीय कंपनी बनी.
51. शंतरज के ग्रांडमास्टर विश्वनांथन आनंद ने 2000 में विश्व शतरंज चैंपियनशिप जीती.
52. 2001 में भारत में बने फाइटर जेट तेजस ने बैंगलुरू से अपनी पहली उड़ान भरी.
53. 2002 में भारतीय क्रिकेट टीम ने लंदन में हुई नैटवेस्ट सीरिज़ का फायनल जीता.
54. 2003 में सानिया मिर्ज़ा विंबलडन की डबल्स ट्रॉफी जीतने वाली पहली भारतीय बनी.
55. राज्यवर्धन राटौर ने 2004 ओलिंपिक्स में सिल्वर जीता.
56. 2005 में भारत ने सूचना के अधिकार कानून को पास किया.
57. 2006 में परिमर्जन नेगी अंतरराष्ट्रीय चेस ग्रांडमास्टर बनने वाले सबसे युवा एशियाई बने.
58. 2007 में प्रतिभा पाटिल देश की पहली महिला राष्ट्रपति बनीं.
59. 2008 में अभिनव बिंद्रा ने शूटिंग में बीजिंग ओलिंपिक्स में स्वर्ण पदक जीता.
60. इस खेल में एकल स्वर्ण पदक जीतने वाले अभिनव पहले भारतीय हैं.
61. 2008 में भारत का सफल चंद्र अभियान चंद्रयान 1 ने दुनिया को चकित कर दिया.
62. 2009 में दिल्ली हाईकोर्ट ने समलैंगिकता को अपराध की श्रेणी से बाहर किया.
63. 2010 में शिक्षा के अधिकार को संवैधानिक अधिकार घोषित किया गया.
64. 2011 में 27 साल बाद एम एस धोनी की अगुवाई में टीम इंडिया ने क्रिकेट विश्व कप जीता.
65. लंदन ओलिंपिक्स 2012 में भारत ने 6 मेडल जीते.
66. 2013 में मंगलायन ने मंगल ग्रह पर चक्कर लगाया.
67. 2014 में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भारत को पोलियो मुक्त घोषित किया.
68. 2015 में सानिया मिर्ज़ा और सायना नेहवाल अपने अपने खेलों में शीर्ष पर रहीं.
69 . जून 2016 में भारत ने महिला फाइटर पायलटों के पहले बैच को ट्रेनिंग दी.
70. तीन अगस्त 2016 को भारत ने जीएसटी को हरी झंडी दिखाई जिसे 25 साल का देश का सबसे बड़ा कर सुधार कार्यक्रम बताया जा रहा है.

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz