लेखक परिचय

मृत्युंजय दीक्षित

मृत्युंजय दीक्षित

स्वतंत्र लेखक व् टिप्पणीकार लखनऊ,उप्र

सभी दलों की अग्निपरीक्षा का असली केंद्र होगा बुंदेलखंड

Posted On & filed under राजनीति.

मृत्युंजय दीक्षित उप्र विधानसभा चुनाव 2017 का पहला चरण पूरा हो चुका है तथा वहां के मतदान के आंतरिक रूझानों का अनुमान लगाने के बाद अब सभी दलों की निगाहें आगामी चरणों के लिए लग गयी हैं तथा वहां पर अपना परचम फहराने के लिए प्रयास भी काफी तेज कर दिये हैं। बुदेलखंड राजनैतिक दृष्टि… Read more »

क्या बदल गयी है शिवसेना ?

Posted On & filed under राजनीति.

मृत्युंजय दीक्षित ऐसा प्रतीत हो रहा है कि अब भाजपा का शिवसेना के साथ गठबंधन अधिक दिनों तक नहीं चलने वाला है। आज की शिवसेना काफी बदल चकी है। आज के उद्धव ठाकरे ने शिवसेना के संस्थापक बाला साहेब ठाकरे के सिद्धांतो को भी दरकिनार कर दिया है। स्व. बालासाहेब ठाकरेे ने शिवसेना की स्थापना… Read more »



मुस्लिम परस्ती का खतरनाक खेल खेलकर सत्ता पाने की चाहत में बसपा 

Posted On & filed under राजनीति.

मृत्युंजय दीक्षित उप्र विधानसभा चुनावों में रैलियों, जनसभाओं ओर रोड शो के चलते सभी दलों के प्रचार और  प्रसार में तेजी आ गयी है। अभी तक सभी सर्वेक्षणों व ज्योतिषी आंकलन में यदि किसी दल को बेहद कमतर व कमजोर माना जा रहा है तो वह है बसपा। लेकिन वास्तव में ऐसा है नहीं जब… Read more »

गरीबों के मसीहा पीएम नरेन्द्र मोदी

Posted On & filed under राजनीति.

मृत्युंजय दीक्षित संसद के वर्तमान बजट सत्र में पीएम मोदी ने राष्ट्रपति के अभिभाषण के धन्यवाद प्रस्ताव पर जो उत्तर दिया वह काफी ऐतिहासिक व लम्बा था। राजनैकि हलको मेंकहा जा रहा है कि पीएम मोदी ने अपने संबोधन के माध्यम से जहां विपक्ष पर तीखा हमला बोल दिया वहीं दूसरी ओर एक प्रकार से… Read more »

मौत के सौदागर से लेकर रेनकोट स्नान तक किसका सर्वाधिक अपमान

Posted On & filed under राजनीति.

नोटबंदी के बाद से अब तक यह सभी दल लगातार पीएम मोदी को डिगाने की साजिशें रच रहे हैें। संसद का पिछला सत्र पूरी तरह से बर्बाद कर दिया गया और पीएम मोदी के खिलाफ अपशब्दों की बौछार होती रही। लेकिन यह पीएम मोदी का 56 इंच का सीना ही है कि वह लगातार आगे बढ़ते जा रहे हैं। रेनकोट वाले बयान पर पीएम मोदी को माफी मांगने की कोई आवश्यकता नहीं है

पीएम मोदी की गर्जना व संकल्प पत्र के सहारे चुनावी मैदान में भाजपा

Posted On & filed under राजनीति.

मृत्युंजय दीक्षित नोटबंदी के ऐतिहासिक फैसले के बाद उप्र के विधानसभा चुनाव भारतीय जनता पार्टी के लिये सबसे अहम होने जा रहे हैं यही कारण है कि भाजपा व संघ परिवार ने यूपी का चुनाव जीतने के लिये अपनी सारी ताकत अब झोक दी है। उप्र में भाजपा के सहयोगी दलों के साथ कुल मिलाकर… Read more »

महान क्रंातिकारी लाला लाजपत राय

Posted On & filed under राजनीति, शख्सियत.

28 जनवरी पर विशेष म्ृात्युंजय दीक्षित आदर्शों के प्रति समर्पित आर्यसमाजी धार्मिक सदभाव के प्रणेता देश के लिए अपने प्राणों का बलिदान करने वाले महान क्रांतिकारी लाला लाजपत राय का जन्म 28 जनवरी 1865 तत्कालीन पंजाब के फिरोजपुर के जगरांव के निकट ढुंढके गंाव में हुआ था। लाला लाजपत राय के पिता का नाम राधाकृष्ण… Read more »

खादी ,गांधी और मोदी

Posted On & filed under विविधा.

मृत्युंजय दीक्षित ऐसा प्रतीत हो रहा है कि आजकल भाजपा व संघविरोधी मानसिकता वाले राजनैतिक दलों व मोदी विरोधियों के पास बहस के लिए कोई विषय नहीं रह गया है यही कारण है कि वह आजकल खाली समय के विषयांे पर ही बहस करते हुए और उन्हीं मुददों के सहारे केंद्र की भाजपा सरकार व… Read more »

बसपा की मुस्लिम परस्त राजनीति 

Posted On & filed under राजनीति.

मृत्युंजय दीक्षित आगामी विधानसभा चुनावों के लिए चुनाव आयोग ने तारीखों का ऐलान कर दिया है और इसी के साथ सभी दलां ने अपनी चुनावी तैयारियां तेज करनी प्रारम्भ कर दी हैं जिसमें बसपा नेत्री मायावती सबसे आगे दिखलायी पड़ रही हंै। बसपा नेत्री मायावती ने एक बार फिर दलित- मुस्लिम गठजोड़ का सहारा लिया है… Read more »

रमाबाई मैदान से प्रदेश में महापरिवर्तन का संकेत ?

Posted On & filed under राजनीति.

सर्वे से उत्साहित भाजपा मृत्युंजय दीक्षित उत्तर प्रदेश में चुनावी सरगर्मियां अब चरम सीमा पर पहंुच रही हैं। नये साल के दूसरे दिन ही लखनऊ के ऐतिहासिक रमाबाई मैदान में भाजपा ने महापरिवर्तन रैली का आयोजन किया जिसमें भाजपा के सामने सबसे बड़ी समस्या बसपा नेत्री मायावती की रैलियों में आने वाली भीड़ से भी… Read more »