लेखक परिचय

शैलेन्द्र चौहान

शैलेन्द्र चौहान

कविता, कहानी, आलोचना के साथ पत्रकारिता भी। तीन कविता संग्रह ; 'नौ रुपये बीस पैसे के लिए'(1983), श्वेतपत्र (2002) एवं, 'ईश्वर की चौखट पर '(2004) में प्रकाशित। एक कहानी संग्रह; नहीं यह कोई कहानी नहीं (1996) तथा एक संस्मरणात्मक उपन्यास पाँव जमीन पर (2010) में प्रकाशित। धरती' नामक अनियतकालिक पत्रिका का संपादन। मूलतः इंजीनियर। फिलहाल जयपुर में स्थायी निवास एवं स्वतंत्र पत्रकार।

Posted On by &filed under समाज.


शैलेन्द्र चौहान
हरियाणा बीजेपी के अध्यक्ष के बेटे ने चंडीगढ़ में जो हरकत की है, वह सभ्य समाज की मुंह पर कालिख है. चंडीगढ़ में शराब के नशे में टाटा सफारी में घूमते हुए एक युवती का पीछा करना. उसे डरते हुए भागते रहने के लिए मजबूर करना, यह बदतमीजी और ताकत के दंभ की चरम सीमा है. सुशासन का दावा करने वाली सरकारों के दौर में दो युवकों में इतना दुस्साहस कहां से आया. इसके बाद जो कुछ भी हुआ वह और भी ज्यादा क्षुब्ध करने वाला है. युवती की शिकायत पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज की. युवकों को गिरफ्तार किया और तुरंत जमानत दे दी. क्यों, क्योंकि एक आरोपी राजनीतिक रसूख वाला था. वह हरियाणा बीजेपी अध्यक्ष सुभाष बराला का बेटा था. बराला का बेटा दोबारा सिर्फ इस वजह है गिरफ्तार हो पाया क्योंकि युवती के पिता आईएएस अफसर हैं. उधर हरियाणा बीजेपी उपाध्यक्ष रामवीर भट्टी ने लड़की पर ही सवाल उठाते हुए एक न्यूज़ चैनल से कहा कि उसे रात 12 बजे के बाद बाहर नहीं रहना चाहिए था. उनके अनुसार, माहौल सही नहीं है. हमें खुद ही अपनी सुरक्षा का ख़्याल रखना होगा. लड़की को देर रात कार नहीं चलानी चाहिए थी.
एक ओर जहां भट्टी के अनुसार, सारा दोष लड़की का है वहीं चंडीगढ़ से बीजेपी सांसद किरन खेर का कहना है कि यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है. ऐसा किसी के साथ नहीं होना चाहिए. साथ ही औरत की इज्ज़त और मर्यादा को राजनीति से दूर रखना चाहिए. सांसद अनुराग ठाकुर ने भी इस घटना की निंदा की है.
उन्होंने ट्वीट किया है कि लड़की रात के साढ़े बारह बजे बाहर थी, इस बात पर सवाल उठाने से बेहतर होगा कि हम उन लोगों की सोच पर सवाल करें. हर एक की निजता का सम्मान किया जाना चाहिए. विकास बराला पर लड़की का पीछा करने और छेड़छाड़ के आरोपों के बाद अब पार्टी के अंदर से ही आवाजें उठनी शुरू हो गई हैं. कुरुक्षेत्र से बीजेपी के सांसद राजकुमार सैनी ने कहा कि बराला को पार्टी के ऐक्शन का इंतजार न करते हुए तुरंत इस मामले में इस्तीफा देना चाहिए. उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी ने ही ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ का नारा दिया है. उन्होंने कहा, ‘यह किसी आम आदमी नहीं बल्कि हमारी पार्टी के अध्यक्ष पर आरोप लगाया गया है। परिवार की जैसी बेल होती है, उस पर वैसे ही फल लगते हैं. बराला को तुरंत पार्टी की छवि बचाने के लिए नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए.’ वहीं, हमारे सहयोगी चैनल टाइम्स नाउ से बातचीत में बीजेपी सांसद किरन खेर ने कहा कि किसी को एक लड़की को डराने का हक नहीं है। जहां राजकुमार सैनी ने नैतिक आधार पर बराला को पद से इस्तीफा देने कहा है, वहीं बीजेपी नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने आरोपियों को ‘नशे में धुत गुंडे’ बताते हुए कहा कि वह पीआईएल दाखिल करेंगे. ध्यान देने की बात है कि हरयाणा में अपराध लगातार बढ़ रहे हैं. गत माह में 1 जुलाई को जींद जिले के गांव अलेवा में युवती को बंधक बनाकर पिस्तौल की नोक पर उससे बलात्कार करने और वीडियो बनाकर यू-ट्यूब पर डालने के आरोप में पुलिस ने एक व्यक्ति को पकड़ा। 14 जुलाई को घर में अकेली 16 वर्षीय नाबालिगा से बलात्कार के आरोप में मोहित पांचाल नामक युवक को गुडग़ांव पुलिस ने गिरफ्तार किया. 15 जुलाई को देर रात धारूहेड़ा चुंगी पर बदमाशों ने एक युवक को गोली मार कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। घायल युवक 18 दिन पहले मारे गए अपने भाई की हत्या के केस में गवाह है। 15 जुलाई को सोनीपत के गांव गढ़ी ब्राह्मïणान में पति के साथ किराए के घर में रह रही महिला की अज्ञात हमलावर ने गला दबाकर हत्या कर दी। 15 जुलाई को बहन की लव मैरिज से नाराज भाई ने मामा के साथ मिलकर जीजा पर चाकू से हमला करके उसकी हत्या कर दी। 16 जुलाई को गुरुग्राम के निकटवर्ती नौरंगपुर गांव में राकेश नामक एक व्यक्ति तड़के 5 बजे शराबी हालत में घर आया तो पत्नी शकुंतला और 12 वर्षीय बेटी अंजलि द्वारा आपत्ति करने पर उसने दोनों से झगडऩा शुरू कर दिया और फिर डंडे से पीट-पीट कर अंजलि की हत्या कर दी. 16 जुलाई को ही सुबह-सवेरे गुरुग्राम के गड़ही गांव के फार्म हाऊस में 20 वर्षीय मजदूर सोनू को अपनी मजदूरी मांगने पर फार्म हाऊस के कर्मचारी सोमवीर ने लकड़ी काटने वाली आरी से गला रेत कर मार डाला. 16 जुलाई सुबह बावल के तिहाड़ा गांव में रंजिश में बदमाशों ने गिरदावर सतबीर की उनके घर में गोलियां मार कर हत्या कर दी. 16 जुलाई रात को कैथल के गांव पजुपुरा के निकट काटन मिल में 8 अज्ञात युवकों ने हवाई फायर कर मालिक व नौकरों को बंधक बनाकर मिल में लगे ट्रांसफार्मर से लाखों रुपए का तेल एवं तांबे के तार लूट लिए. 17 जुलाई रात को हांसी में एक नाबालिग लड़की के अपहरण तथा दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या कर दी गई. अपहरण, बलात्कार, लूटमार, हत्याओं आदि की ये घटनाएं जहां राज्य में सब तरह के अपराधों में वृद्धि की द्योतक हैं, वहीं दो बेटियों की हत्या और बलात्कार इस तथ्य का भी मुंह बोलता प्रमाण है कि राज्य में आज बेटियों के प्राण और मान-सम्मान किस कदर खतरे में हैं. अपराधियों के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं.
सोशल मीडिया पर ये मामला छाया हुआ है. एक वर्ग मानता है कि समाज महिलाओं के लिए सुरक्षित नहीं है तो वहीं एक वर्ग ऐसा भी है जो लड़की को ही कुसूरवार ठहरा रहा है. विकास बराला और उसके दोस्त आशीष द्वारा की गई छेड़छाड़ के विरोध में आईएएस अफसर की बेटी वर्णिका न्याय के लिए खुलकर सामने आईं तो दूसरी तरफ सोशल मीडिया में उनकी एक पुरानी तस्वीर वायरल होने लगी, जिसमें वर्णिका दो लड़कों के साथ दिख रही हैं। दावा किया जा रहा है कि इस तस्वीर में विकास भी है। हैरानी तब हुई जब यह तस्वीर बीजेपी की बड़ी महिला नेता शाइना एनसी के ट्विटर हैंडल से भी पोस्ट की गई। हालांकि, बाद में बीजेपी नेता ने दावा किया कि उनका अकाउंट हैक हो गया था। सोशल मीडिया में एक वर्ग देश में बीजेपी की सरकार बनने के बाद से ही लम्पटता और बदतमीजी करने से बाज नहीं आ रहा. इससे ऐसा लगता है कि इन्हें बीजेपी और उसके सहयोगी संगठनों का आशीर्वाद प्राप्त है.
सोचिए बराला एंड पार्टी किसी आम घर से आने वाली युवती और उसके परिवार का क्या हाल करते. उसके पिता की पार्टी केंद्र और देश के 15 राज्यों में सरकार चलाती है. भ्रष्टाचार का आरोप झेलने वाले विपक्षी नेता उस पार्टी से कांपते हैं. लेकिन अपने कानून की वह जितनी भी धज्जियां उड़ाएं, पार्टी के कान पर जूं तक नहीं रेंगती. क्योंकि, वह बस विस्तार चाहती है, पूरे भारत पर छा जाना चाहती है. इसके लिए वह हर तरह के नैतिक मूल्य की तिलाजंलि देने को आतुर है. ध्यातव्य है कि केंद्र में बीजेपी की सरकार आने के बाद से ही गौरक्षकों का आतंक फैलने लगा था. स्थितियां अभी तक काबू में नहीं आ रही हैं. दिन ब  दिन और भी बिगडती जा रही हैं.  उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्यप्रदेश, असम, झारखण्ड के बाद ताजा मामला बिहार के जिला भोजपुर से आया है जहाँ पुलिस ने आज गोरक्षकों के दबाव में गोमांस के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया. प्राप्त सूत्रों के मुताबिक बिहार के भोजपुर जिले के बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने गौमांस के आरोप में एक ट्रक को निशाना बनाते हुए काफी तोड़ फोड़ की. बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने ट्रक में गौमांस ले जाने का आरोप लगाते हुए ट्रक में मौजूद 3 लोगों की बेरहमी से पिटाई भी की. इसी बीच पुलिस उन्हें छुड़ा कर किसी तरह अपने साथ थाने ले कर चली गयी.
उत्तर प्रदेश में फरवरी-मार्च 2017 में हुए विधानसभा चुनावों में बीजेपी ने अपने सहयोगी दलों के साथ ऐतिहासिक प्रदर्शन करते हुए 403 सदस्यों वाली विधानसभा में 325 सीटें जीती हैं. और मुख्यमंत्री की गद्दी मिली फायरब्रांड हिंदू नेता योगी आदित्यनाथ को. अब उनके राज में क्या हो रहा है ? योगी सरकार को सत्ता में आए करीब 3 महीने का वक्त गुजर चुका है लेकिन अपराधी अभी भी बेलगाम हैं. आए दिन लूट, हत्या और रेप की घटनाएं हो रही है. रोमियो स्क्वाड भी बदस्तूर अस्तित्व में है. शाहजहांपुर में एक बीजेपी के नेता ने एसपी के घर तोड़फोड़ की, पत्थरबाजी कराई, गोरखपुर में बीजेपी के नेता ने महिला डीएसपी को डांटा. भाजपा नगर अध्यक्ष, ठाकुरद्वारा शिवेंद्र गुप्ता को फोन पर किसी ने जान से मारने की धमकी दी. नगर अध्यक्ष कार्यकर्ताओं के साथ कोतवाली तहरीर लेकर पहुंचे. यहां दरोगा अमित शर्मा कोतवाली परिसर में मौजूद थे. बीजेपी नगर अध्यक्ष ने दरोगा अमित शर्मा से कहा तत्काल कार्यवाही करो. सूबे में हमारी सरकार है. दरोगा ने कहा कि जांच कर कार्यवाही होगी. इतना सुनते ही भाजपा नगर अध्यक्ष व कार्यकर्ताओं ने दरोगा पर धारदार हथियार से वार कर दिया. हमले में दरोगा अमित शर्मा के हाथ से खून बहने लगा। इस दौरान बीजेपी नगर अध्यक्ष व उनके साथियों ने कोतवाली पुलिस को जमकर गालियां दीं. थाना प्रभारी ने बीजेपी कार्यकर्ताओं को समझाया लेकिन वह मानने को तैयार नहीं दिखे. हमले में घायल दरोगा का कहना है बीजेपी कार्यकर्ताओं ने मेरे साथ मारपीट कर मेरी वर्दी भी फाड़ दी. भाजपा नगर अध्यक्ष, ठाकुरद्वारा शिवेंद्र गुप्ता को फोन पर किसी ने जान से मारने की धमकी दी. नगर अध्यक्ष कार्यकर्ताओं के साथ कोतवाली तहरीर लेकर पहुंचे। यहां दरोगा अमित शर्मा कोतवाली परिसर में मौजूद थे. बीजेपी नगर अध्यक्ष ने दरोगा अमित शर्मा से कहा तत्काल कार्यवाही करो। सूबे में हमारी सरकार है। दरोगा ने कहा कि जांच कर कार्यवाही होगी. इतना सुनते ही भाजपा नगर अध्यक्ष व कार्यकर्ताओं ने दरोगा पर धारदार हथियार से वार कर दिया। हमले में दरोगा अमित शर्मा के हाथ से खून बहने लगा. इस दौरान बीजेपी नगर अध्यक्ष व उनके साथियों ने कोतवाली पुलिस को जमकर गालियां दीं. शाहजहांपुर पुलिस स्टेशन में लड़की से छेड़खानी के आरोप में बंद अपने साथी को छुड़ाने के लिए जब बीजेपी कार्यकर्ताओं ने धरना शुरू किया तो पुलिस ने उन्हें समझाने की हर मुमकिन कोशिश की. पुलिस ने बीजेपी नेताओं से कहा कि छेड़खानी के आरोपी अपने साथी को छुड़ाने के लिए कोर्ट में जाइए लेकिन बीजेपी कार्यकर्ताओं पर कोई असर नहीं हुआ. पुलिस से इस नोंकझोंक के बाद बीजेपी कार्यकर्ता दादागीरी पर उतर आये और उन्होंने दूसरे लोगों को भी पुलिस स्टेशन पर बुला लिया. देखते ही देखते बीजेपी कार्यकर्ताओं का हुजूम पुलिस स्टेशन के बाहर जमा हो गया. और उसके बाद उन लोगों ने छेड़खानी के आरोपी अपने साथी को जबरन थाने से छुड़ा लिया. एक अन्य मामले में लखनऊ के गाजीपुर थाना क्षेत्र के इंदिरानगर इलाके में 8वीं की छात्रा से चलती कार में तीन लोगों ने गैंगरेप किया. सुबह करीब चार बजे पीड़ित को घर के सामने छोड़कर अपराधी भाग निकले. योगी आदित्य नाथ राज्य को उत्तम प्रदेश बनाने का सपना जिन पुलिसकर्मियों की बदौलत देख रहे हैं उनके कारनामे भी चौंकाने वाले हैं. आरोप है कि ग्रेटर नोएडा के दादरी इलाके में चितेरा गांव के निवासी और यूपी पुलिस में कॉन्स्टेबल संदीप ने पड़ोस की चालीस वर्षीय एक महिला के चेहरे पर तेजाब फेंक दिया. इससे वो बुरी तरह झुलस गई. पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है लेकिन अभी तक आरोपी पुलिस वाले की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। आरोपी पुलिसकर्मी 24 वर्षीय संदीप मुजफ्फरनगर में पदस्थापित है और एक सप्ताह की छुट्टी पर वह अपने गांव चितेरा आया था. अब हरयाणा के बीजेपी नेता के बेटे ने एक युवती का अपहरण करने की कोशिश की. बीजेपी नेता की पत्नी ने ट्रक ड्राइवर को पीटा. ये कैसा सुशासन है? अब ये देखना जरूरी है कि बात बात पर ट्वीट करने वाले बीजेपी के आला नेता समाज को क्या संदेश देते हैं. क्या वे इस घटना को विपक्षी चाल कहेंगे या फिर एक शासन चलाने वाली एक जिम्मेदार पार्टी की तरह नजीर पेश करेंगे. बीजेपी के सामने मिसाल पेश करने का यह एक और मौका है अगर उनकी समझ में आये तो. आप लगातार सुशासन की बात कर रहे हैं तब बार बार यह रटने से यह काम नहीं चलेगा कि पहले भी अन्य पार्टियों के राज में भी यह सब होता रहा है.

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz