क्या करें और क्या ना करें मल मास/खर मास में..

Posted On by & filed under धर्म-अध्यात्म

धर्मग्रंथों के अनुसार, खर (मल) मास को भगवान पुरुषोत्तम ने अपना नाम दिया है। इसलिए इस मास को पुरुषोत्तम मास भी कहते हैं। इस मास में भगवान की आराधना करने का विशेष महत्व है। धर्मग्रंथों के अनुसार, इस मास में सुबह सूर्योदय के पहले उठकर शौच, स्नान, संध्या आदि अपने-अपने अधिकार के अनुसार नित्यकर्म करके भगवान का स्मरण करना चाहिए और पुरुषोत्तम मास के नियम ग्रहण करने चाहिए। पुरुषोत्तम मास में श्रीमद्भागवत का पाठ करना महान पुण्यदायक है।

जोगीरा हास्य व्यंग की अनूठी विधा

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, धर्म-अध्यात्म, वर्त-त्यौहार

किसके बेटा राजा रावण किसके बेटा बाली?
किसके बेटा हनुमान जी जे लंका जारी?
विसेश्रवा के राजा रावण बाणासुर का बाली।
पवन के बेटा हनुमान जी, ओहि लंका के जारी।
जोगी जी वाह वाह, जोगी जी सारा रा रा।

जानिए चैत्र नवरात्री 2017 के शुभ मुहूर्त–

Posted On by & filed under धर्म-अध्यात्म

प्रिय पाठकों/मित्रों, नवरात्र भारतवर्ष में हिंदूओं द्वारा मनाया जाने प्रमुख पर्व है। इस दौरान मां के नौ अलग-अलग रूपों की पूजा की जाती है। वैसे तो एक वर्ष में चैत्र, आषाढ़, आश्विन और माघ के महीनों में कुल मिलाकर चार बार नवरात्र आते हैं लेकिन चैत्र और आश्विन माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से… Read more »

आइये जाने होली खेलने के दौरान क्या रखें सावधानी…

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, जन-जागरण, धर्म-अध्यात्म

होली रंगों का त्योहार है जो भारत में हिन्दु धर्म के लोग हर साल बड़ी धूमधाम से मनाते है | ये पर्व हर साल वसंत ऋतु के समय फागुन (मार्च) के महीने में आता है | भारत पहले से ही कला और संस्कृति के क्षेत्र में अग्रणी रहा हैं अगर भारतीय समाज के त्यौहार की… Read more »

चैतन्य महाप्रभु की संकीर्तन रस संस्कृति

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, धर्म-अध्यात्म

चैतन्य महाप्रभु जयन्ती-12 मार्च 2017 पर विशेष ललित गर्ग चैतन्य महाप्रभु भारतीय संत परम्परा के भक्ति रस संस्कृति के एक महान् कवि, संत, समाज सुधारक एवं क्रांतिकारी प्रचारक थे। वैष्णव धर्म के परम प्रचारक एवं भक्तिकाल के प्रमुख कवियों में से एक थे। उन्होंने जात-पांत के बंधन को तोड़ने और सम्पूर्ण मानव जाति को एक… Read more »

अमालकी एकादशी

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, धर्म-अध्यात्म

फाल्गुन शुक्ल पक्ष की एकादशी को आमलकी एकादशी के रूप में जाना जाता है। आमलकी एकादशी महाशिवरात्रि और होली के मध्य में आती है। अंग्रेजी कैलेण्डर के अनुसार वर्तमान में यह फरवरी या मार्च के महीने में आती है। इस वर्ष यह आज (बुधवार),08 मार्च,2017 को मनाई जा रही हैं|सनातन धर्म में एकादशी व्रत का… Read more »

हनुमान जयंती

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, धर्म-अध्यात्म

प्रिय पाठकों/मित्रों, 2017 में हनुमान जयंती 11 अप्रैल, दिन मंगलवार को मनाई जाएगी ।हनुमान जयंती भारत में लोगों के द्वारा हर साल, हिन्दू देवता हनुमान जी के जन्म दिवस को मनाने के उपलक्ष्य में मनाई जाती है। भारतीय हिन्दी कैलेंडर के अनुसार यह त्योहार हर साल चैत्र (चैत्र पूर्णिमा) माह के शुक्ल पक्ष में 15वें… Read more »

जानिए की क्यों नहीं करना चाहिए बिस्तर पर बैठ कर भोजन…???

Posted On by & filed under कला-संस्कृति, धर्म-अध्यात्म

  ऐसा करना दे सकता है शनिदेव  को आमंत्रण….. प्रिय पाठकों/मित्रों, कुछ कार्य ऐसे भी होते हैं जो बहुत साधारण लगते हैं लेकिन ज्योतिष के अनुसार वे शुभ नहीं होते. दूसरे शब्दों में कहें तो वे मनुष्य के जीवन से सुख और समृद्धि को नष्ट करते हैं. ऐसे कार्यों से सदैव दूर रहना चाहिए. जानिए… Read more »

जानिए वास्तु और आइना (शीशा/दर्पण/कांच) का सम्बन्ध, इसके प्रभाव और लाभ-हानि–

Posted On by & filed under धर्म-अध्यात्म

किसी भी दर्पण को सोने के कमरे में नहीं होना चाहिए। पति-पत्नी के सोने के कमरे में दर्पण से किसी तीसरे आदमी की मौजूदगी का अहसास होता है। रात के वक्त अंधेरे में अपना ही प्रतिबिंब हमें चौंका भी देता है। इसलिए अगर आईना या ड्रेसिंग-टेबल रखना भी हो , तो इस तरह से रखा जाना चाहिए कि सोने वाले का अक्स उसमें न दिखाई दे। और , क्योंकि टीवी की स्क्रीन भी शीशे का काम करती है इसलिए टीवी को भी बेड के सामने नहीं रखना चाहिए। अगर किसी वजह से ऐसा करना मुश्किल हो , तो सोने से पहले दर्पण को किसी कपड़े या पर्दे से ढक देना चाहिए

जानिए वर्ष 2017 में होलिका दहन का शुभ मुहूर्त

Posted On by & filed under धर्म-अध्यात्म, वर्त-त्यौहार

संवत् 2073 दिनांक 12 मार्च 2017 को भारत के विभिन्न स्थानों पर होलिका दहन का मुहूर्त नीचे दिए गए समय के अनुसार ही करे वह समय इस प्रकार से है ।। वर्ष 2017 में होलिका दहन 12 मार्च 2017, रविवार के दिन मनाई जाएगी. होलिका दहन मुहूर्त = 06:23 pm से 08:23 pm तक रहेगा…. Read more »