यज्ञ क्या और इसके करने से लाभ?

Posted On by & filed under चिंतन, धर्म-अध्यात्म, प्रवक्ता न्यूज़

ओ३म् मनमोहन कुमार आर्य यज्ञ क्या है और इसे क्यों करना चाहिये? यज्ञ वैसे तो परोपकार के सभी कार्यों व शुभ कर्मों को कहते हैं परन्तु इसका मुख्य अर्थ देव पूजा, संगतिकरण और दान के लिए भी प्रयोग में आता है। देवपूजा का अर्थ है जड़ व चेतन दोनों प्रकार के देवों की पूजा करना।… Read more »

 जातिवाद पे सब बलिहारी   

Posted On by & filed under प्रवक्ता न्यूज़

– जी हां। और प्रतिभा पाटिल के बारे में तो एक कांग्रेसी नेता ने ही कहा था कि उनके हाथ की बनी चाय इंदिरा जी को बहुत पसंद थी। इसलिए वे प्रायः प्रधानमंत्री भवन पहुंच जाती थीं। इसके पुरस्कारस्वरूप ही उन्हें राष्ट्रपति बनाया गया। ये बात दूसरी है कि इतना कहने पर ही उसे कांग्रेस से बर्खास्त कर दिया गया। सुना तो ये भी गया है कि अवकाश प्राप्ति के बाद वे राष्ट्रपति भवन से काफी कुछ बटोर कर ले गयीं, जिसे फिर उंगली टेढ़ी करने पर ही वापस भेजा।

गौरक्षा के पावन संकल्प को लांछित करने का षडयंत्र स्वीकार्य नहीं : डा सुरेन्द्र जैन

Posted On by & filed under प्रवक्ता न्यूज़

प्रेस वक्तव्य गौरक्षा के पावन संकल्प को लांछित करने का षडयंत्र स्वीकार्य नहीं : डा सुरेन्द्र जैन नई दिल्ली। जुलाई 4, 2017. हिन्दू समाज के  गौरक्षा के पावन संकल्प को लांछित करने के षडयंत्रों से सावधान करते हुए विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) ने गौरक्षार्थ कठोर कानून बना कर कड़ाई से पालन करने की अपनी मांग दोहराई है. विहिप के अंतर्राष्ट्रीय संयुक्त महामंत्री डा… Read more »

महावीर के  सिद्धान्त पर चलकर ही सन्तुलित समाज की रचना संभवः पासवान

Posted On by & filed under प्रवक्ता न्यूज़

केन्द्रीय खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री रामविलास पासवान ने गच्छाधिपति आचार्य श्रीमद् नित्यानंद सूरीश्वरजी के दीक्षा के 50 वर्ष की संपन्नता पर संयम तप अर्धशताब्दी महोत्सव समारोह में बोलते हुए कहा कि भगवान महावीर के समता के सिद्धान्त पर चलकर ही सन्तुलित एवं आदर्श समाज की रचना हो सकती है।  आचार्य श्रीमद् नित्यानंद सूरीश्वरजी… Read more »

‘ताज रंग महोत्सव 2017‘ का शुभारम्भ 6 जुलाई से

Posted On by & filed under प्रवक्ता न्यूज़

आगरा। एतिहासिक शहर आगरा में विगत वर्षों की भांति नटरांजलि थियेटर आर्टस की संस्थापिका अलका सिंह के नेतृत्व में देश विदेश से पधारे लगभगे 400 कलाकारों की कला संस्कृति के महादर्शन हेतु ‘ताज रंग महोत्सव 2017‘ के चार दिवसीय (6 जुलाई से 9 जुलाई 2017 ) कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। इस ताज… Read more »

जानिए …आखिर क्यों टूटा हुआ पलंग होने से  वैवाहिक जीवन में आती हैं प्रॉब्लम/परेशानियां….

Posted On by & filed under प्रवक्ता न्यूज़

वास्तु शास्त्र का महत्व आजकल बढ़ता जा रहा है। जिसकी वजह है वास्तु द्वारा बताए गए नियम हैं। वास्तुविद पंडित दयानन्द शास्त्री ने बताया की घर में ऐसी कोई चीज नहीं होनी चाहिए जो अनुपयोगी हो। साथ ही ऐसी चीजें भी जो टूट जाती हैं उन्हें भी तुंरत घर से बाहर कर देना चाहिए। क्योंकि… Read more »

‘आपातकाल की यादें’ विषय पर एक विचार गोष्ठी का आयोजन

Posted On by & filed under प्रवक्ता न्यूज़

दिनांक 25 जून, 2017 रविवार को विश्व संवाद केन्द्र और उत्तरांचल उत्थान परिषद द्वारा डी.ए.वी. (पी.जी.) काॅलेज के ‘दीनदयाल सभागार’ में ‘आपातकाल की यादें’ विषय पर एक विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। सबसे पहले विश्व संवाद केन्द्र के निदेशक श्री विजय कुमार ने बताया कि इंदिरा गांधी ने पुराने कांग्रेसियों को किनारे कर कैसे… Read more »

हिमाचल प्रदेश में स्टेट ओलंपिक का भव्य शुभारंभ।

Posted On by & filed under प्रवक्ता न्यूज़

शिमला: भारत मे पहली बार ऐसा हुआ है जब किसी प्रादेशिक स्तर पर ओलपिक खेलो का आयोजन किया जा रहा है। शिमला में हुए उद्घाटन समारोह का शुभारंभ मुख्य अतिथि हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल आचार्य गुरुदेववृत ने किया । माननीय राज्यपाल ने अपने सम्बोधन में कहा कि हिमाचल देव भूमि और वीर भूमि के लिए… Read more »

बेकामी फटाखों पर लगे रोक

Posted On by & filed under प्रवक्ता न्यूज़

बेवजह की चीज खरीदते-खरीदते एक दिन ऐसा आता है कि जरूरत के लिए वजह की चीज बेचना पडता है, इसीलिए सोच-समझकर कदम उठाना वक्त की नजाकत है। उसी हिमायत की आज बहुत दरकार है, देश में चंहुओर व्यसन, फैशन और फंतासी जीवन की उधेडबून में खर्चीली, जहरिले और जानलेवा सामानों की भरमार है। जिसे आए… Read more »

किसान आंदोलन : घबराहट नहीं, समाधान दे सरकार

Posted On by & filed under प्रवक्ता न्यूज़

पर यह भी एक सच है तथ्य है कि शिवराज सरकार ने किसानों की बेहतरी के लिए जमीनी प्रयास किए। कांग्रेस शासन में किसानों को कर्जे पर 18 फीसदी ब्याज लिया जाता था, तो आज यह शून्य फीसदी है। दिग्विजय शासन में गांवों से बिजली गायब थी तो आज यह 15-16 घंटें तो है ही। फसल खरीदी पर 150 फीसदी बोनस है जो पहले था ही नहीं। यही कारण है कि कृषि विकास दर 4 से 7 प्रतिशत से बढ़कर 23 प्रतिशत हुई। निश्चित रूप से शिवराज सरकार इसके लिए बधाई की पात्र है।