लेखक परिचय

प्रवक्ता.कॉम ब्यूरो

प्रवक्ता.कॉम ब्यूरो

Posted On by &filed under साक्षात्‍कार, सिनेमा.


-मीनाक्षी शर्मा   

गीत ‘अल्लाह के बंदे’ से लोकप्रिय हुए गायक कैलाश खेर का नया एलबम पिछले ही दिनों रिलीज़ हुआ खुद उनकी म्यूजिक कंपनी ‘कैलासा रिकॉर्ड्स’ से. अभिताभ बच्चन द्वारा लॉन्च किये गये इस एलबम में कुल ११ गीत हैं जिन्हें हमेशा की तरह खुद कैलाश खेर ने लिखा है और इन गीतों को संगीत से सजाया है कैलाश खेर व उनके बैण्ड मेम्बर नरेश व परेश ने. उनके इसी एलबम को लेकर जुहू स्थित उनके निवास स्थान में उनसे बातचीत हुई, पेश हैं कुछ रोचक अंश —

• अपने नए एलबम के बारे में बताइए?

मेरे इस नए एलबम का नाम है ‘रंगीले’. इसे हमने अपनी खुद की कंपनी ‘कैलासा रिकॉर्ड्स’ से रिलीज़ किया है. ‘रंगीले’ एलबम में कुल ११ गीत हैं हर गीत की अपनी कहानी है, हर गीत मुख्य गीत है.

• तो क्या हम कह सकते हैं कि एलबम ‘रंगीले’ में ११ रंग के गीत हैं?

मेरे हिसाब से रंगों को हम गिनती में नही बाँध सकते है क्योंकि रंग तो असीमित होते हैं. इसी तरह जब आप मेरे एलबम के गीत सुनेगें तो आप अनेकों रंगों को महसूस कर सकेगें.

• आपके एलबम के गीतों में ऐसी क्या बात है जिसे श्रोता सुनना पसंद करेगें?

एलबम के एक गीत में बिग बी की आवाज है, इसके अलावा एक गीत ‘संवाद’ में मेरे साथ मेरे २ वर्षीय बेटे कबीर ने भी दो लाइनें हैं. ‘बाबा जी’ गीत मैंने पिता को समर्पित किया है, एक गीत धरती का स्वर्ग कहा जाने वाला “कश्मीर” पर भी है एलबम ‘रंगीले’ में इसी तरह कई ऐसे गीत हैं जो श्रोताओं को पसंद आयेगे.

• एलबम के गीतों के म्यूजिक विडियो भी बने हैं क्या?

अभी हमने ३ गीतों के ही विडियो बनाये हैं वैसे पूरे के पूरे ११ गीतों के विडियो बनाने का हमारा इरादा है.

• आप हर बार अपने एलबम में कोई न कोई नया वाद्ययन्त्र का प्रयोग करते हैं इस बार कौन से नए वाद्ययंत्र का आपने प्रयोग किया है?

इस बार हमने ‘रोतारा’ नामक नए वाद्ययंत्र का प्रयोग किया है.

• आपके एलबम के गीत हमेशा ही कन्फ्यूजन पैदा करते हैं कि वो गीत किसी प्रेमिका के लिए आपने गाये हैं या भगवान के लिए?

हर श्रोता अपने मन के मुताबिक गानों को गा सकता है और उसके बारे में सोच सकता है.

• क्या सोच कर आपने अपने म्यूजिक कंपनी शुरू की? किसी तरह का कोई रिस्क नही लगा आपको?

नही, और रिस्क तो हर बात में ही होता है. म्यूजिक कंपनी शुरू करने की यही वजह रही कि खुद की म्यूजिक कंपनी होने से हम अपने हिसाब से काम कर सकते हैं जबकि दूसरी म्यूजिक कंपनी में यह संभव नही है. दूसरों के साथ काम करने से वो स्वतंत्रता नही मिल पाती जो हम चाहते हैं.

• म्यूजिक कंपनी “कैलासा रिकॉर्ड्स” से आप किस तरह के म्यूजिक एलबम रिलीज़ करेगें?

हमारी कोशिश यही रहेगी कि हम उभरते हुए कलाकारों को मौका दे, अच्छा संगीत लोगों तक पहुंचाएं और सबसे बड़ी बात यह है कि हम नए कलाकारों का शोषण नही करेगे. मेरा सोचना यह है कि हमें चाँद तो छूना है लेकिन आज ही नही.

• म्यूजिक कंपनी तो आपने शुरू कर ली क्या अब फिल्म प्रोडक्शन हाउस भी शुरू करने का इरादा है?

अभी तो हमने म्यूजिक कंपनी ही शुरू की है अगर बाबा ने चाहा तो जल्दी ही हम प्रोडक्शन हाउस भी शुरू करेगें.

• आपकी इमेज एक सूफी गायक ही बनी हुई क्या आप बता सकते हैं वास्तव में सूफी संगीत किसे कहते हैं?

सूफी संगीत मतलब संतो द्वारा गाया जाने वाला संगीत. मैं तो संत नही हूँ पता नही क्यों मुझे सूफी गायक कहा जाने लगा.

 

 

 

Leave a Reply

1 Comment on "‘रंगीले’ एलबम में अनगिनत रंग हैं” – कैलाश खेर"

Notify of
avatar
Sort by:   newest | oldest | most voted
Jeet Bhargava
Guest

बहुत ही प्रतिभाशाली गायक हैं कैलाश. अनोखी आवाज और अद्भुत शैली. अच्छा इंटरव्यू लिया है आपने.

wpDiscuz