लेखक परिचय

प्रवक्‍ता ब्यूरो

प्रवक्‍ता ब्यूरो

Posted On by &filed under विविधा.


‘प्रवक्ता डॉट कॉम’ वेब पत्रकारिता का चर्चित मंच व वैकल्पिक मीडिया का प्रखर प्रतिनिधि है। इसकी शुरूआत 16 अक्टूबर, 2008 को हुई थी। ‘प्रवक्‍ता’ का उद्देश्‍य है जनसरोकारों से जुड़ी खबरों को लोगों तक पहुंचाना एवं विचारशील बहस को आगे बढ़ाना।

विचार पोर्टल प्रवक्‍ता डॉट कॉम के दो साल पूरे होने पर एक ऑनलॉइन लेख प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है।

प्रतियोगिता में भाग हेतु निम्‍नलिखित नियमों से सहमत होना अनिवार्य है-

प्रतियोगिता का विषय : वेब पत्रकारिता : चुनौतियाँ व सम्भावनाएँ

पुरस्‍कार

प्रथम पुरस्‍कार: रु. 1500/-

द्वितीय पुरस्‍कार: रु. 1100/-

योग्‍यता : इस प्रतियोगिता में कोई भी व्‍यक्ति देश या विदेश से भाग ले सकता हैं।

अवधि : 15 नवम्बर, 2010 तक लेख भेज सकते हैं।

शब्‍द सीमा : लेख 2000 से 3000 शब्दों के बीच का होना चाहिए।

भाषा : लेख केवल हिन्दी भाषा में होना चाहिए।

विजेता की घोषणा :

16, नवम्बर 2010 को प्रवक्‍ता डॉट कॉम पर विजेता के बारे में घोषणा की जाएगी।

अन्‍य नियम

आपका लेख अप्रकाशित एवं मौलिक होना चाहिए।

लेख प्रवक्‍ता डॉट कॉम पर प्रकाशित किए जायेगा एवं बाद में इसे पुस्‍तक का स्वरूप भी रूप दिया जा सकता है।

लेख के साथ अपना किसी सरकारी संस्थान द्वारा जारी परिचय पत्र की छाया-प्रति, जीवन परिचय एवं फोटोग्राफ भी भेजें।

पुरस्कार की राशि डाक द्वारा भेजी जाएगी।

पुरस्‍कार के संबंध में जजों का निर्णय ही सर्वोपरि होगा।

अपना लेख ईमेल या फिर डाक (सामग्री- फ्लॉपी या सीडी में केवल) के जरिये हमें निम्न पते पर भेजें-

mail@pravakta.comprawakta@gmail.com

कृपया अपना लेख हिन्दी के युनिकोड फ़ोंट जैसे मंगल (Mangal) में अथवा क्रुतिदेव (Krutidev) में ही भेजें।

नोट- विस्‍तृत जानकारी के लिए यहां क्लिक करें।

Leave a Reply

23 Comments on "प्रवक्ता डॉट कॉम के दो साल पूरे होने पर ऑनलाइन लेख प्रतियोगिता"

Notify of
avatar
Sort by:   newest | oldest | most voted
Animesh kumar jain
Guest

प्रवक्ता .कॉम के २ varsh पुरे होने की subhkamnaye .

nandkishor kushwah
Guest

आपको सफल दो साल पूरे करने पर हार्दिक बधाई

vivek ranjan shrivastava
Guest

वेब पत्रकारिता एक नितांत नया क्षेत्र है , वेब की सारी दुनिया में त्वरित पहुंच ने इसकी महत्ता स्वयमेव स्थापित कर दी है , किसी भी नये फील्ड को स्थापित करना साहसिक कार्य होता है , जिसमें श्रम , धन , समय सब कुछ लगता है . आप यह महत्वपूर्ण कार्य करते जा रहे हैं और चुनौतियो के २ वर्ष पूर्ण भी कर चुके हैं …मंगलकामनाये , बधाई …आपके साथ
विवेक

rajendra kashyap
Guest

संजीव कुमार जी प्रवक्ता को लगाटर सफलता से चलाना, का काम बहुत मुशाकेल hai

राम कृष्ण खुराना
Guest

महोदय,
प्रवक्ता ने दो वर्ष पूरे कर लिए इसके लिए आपको लाख लाख बधाई ! इश्वर से प्रार्थना है की यस इसी प्रकार निरंतर आगे बढती रहे !
शुभकामनायों सहित
राम कृष्ण खुराना

wpDiscuz