लेखक परिचय

प्रभुदयाल श्रीवास्तव

प्रभुदयाल श्रीवास्तव

लेखन विगत दो दशकों से अधिक समय से कहानी,कवितायें व्यंग्य ,लघु कथाएं लेख, बुंदेली लोकगीत,बुंदेली लघु कथाए,बुंदेली गज़लों का लेखन प्रकाशन लोकमत समाचार नागपुर में तीन वर्षों तक व्यंग्य स्तंभ तीर तुक्का, रंग बेरंग में प्रकाशन,दैनिक भास्कर ,नवभारत,अमृत संदेश, जबलपुर एक्सप्रेस,पंजाब केसरी,एवं देश के लगभग सभी हिंदी समाचार पत्रों में व्यंग्योँ का प्रकाशन, कविताएं बालगीतों क्षणिकांओं का भी प्रकाशन हुआ|पत्रिकाओं हम सब साथ साथ दिल्ली,शुभ तारिका अंबाला,न्यामती फरीदाबाद ,कादंबिनी दिल्ली बाईसा उज्जैन मसी कागद इत्यादि में कई रचनाएं प्रकाशित|

Posted On by &filed under विविधा.


प्रभुदयाल श्रीवास्तव

शहरी विकास मंत्री कमलनाथ और छिंदवाड़ा एक दूसरे के पर्याय हैं। छिंदवाड़ा आज जो भी अस्तित्व है उसका एक बड़ा स्तंभ कमलनाथ जी हैं। आज से तीस बरस पहले तक छिंदवाड़ा महज जिला मुख्यालय के रूप में ही जाना जाता था किंतु 1980 के बाद जब से कमलनाथ ने यहां की बागडोर संभाली उत्तरोत्तर विकास करता हुआ छिंदवाडा देश के नक्शे में अपना अलग स्थान बना चुका है। जहां पहले यह स्थान देश के अन्य भागों से अलग थलग था, आज देश के बाकी हिस्सों से यातायात के नज़रिये से तो जुड़ा ही है व्यापार, व्यवसाय और राजनैतिक नजरिये से भी प्रदेश और देश का एक प्रमुख केंद्र बन गया है। पहले आमला से परासिया तक ही रेल की बड़ी लाइन थी परासिया से छिंदवाड़ा तक का सफर नेरो गेज लाइन से ही करना पड़ता था। कमलनाथजी की पहल से ही इसका अमान परिवर्तन होकर आज छिंदवाड़ा से सीधे ही दिल्ली तक गाडियां उपलब्ध हैं। एवं शेष रेल ट्रेक मे नागपुर छिंदवाड़ा का अमान परिवर्तन का कार्य प्रगति पर होकर आगामी दो वर्ष में पूर्ण होने की संभावना व्यक्त की जा रही है। इसके बाद दक्षिण भारत से सीधे ही छिंदवाड़ा का संपर्क हो जायेगा। छिंदवाड़ा सिवनी नैनपुर अमान परिवर्तन के लिये भी सर्वे हो रहा है और आगामी कुछ ही वर्षों में यह काम भी हो सकेगा। यह सब केवल कमलनाथजी के प्रयास का ही परिणाम है। मुलताई से सिवनी एवं नरसिंहपुर से छिंदवाड़ा नागपुर रोड राष्ट्रीय राजपथ होकर कार्य स्वीकृत होकर कार्य आरंभ किये जा रहे हैं। निकट भविष्य में जब यह सब काम पूर्ण होंगे तो छिंदवाड़ा का नक्शा ही बदल जायेगा। यह शहर अब महानगर की ओर अग्रसर होता दिखाई पड़ने लगा है। यह केवल कमलनाथ के कारण ही। इंजिनियरिंग कालेज, कालसेंटर फ्लाई ओवर इनका निर्माण होगा तो छिंदवाड़ा की अलग ही पहचान होगी। एक कर्मठ लगनशील संवेदनशीलता संघर्षरत और छिंदवाड़ा के प्रति समर्पित कमलनाथ छिंदवाड़ा वासियों के हृदय में बसते हैं। विरोधी लाख विरोध करें कमलनाथ का ताज छीनना वर्तमान में तो असंभव है।

अभी हाल में ही आपने बिछुआ क्षेत्र के ग्राम खमरा में [1]खमरा सांख सरवाड़ा [2]खमरा सुरगी और [3]खमरा दातला लुहार बतरी मार्ग के निर्माण का भूमि पूजन किया।राजीव जल मिशन के लिये 6 करोड़ रुपये की राशि प्रदान की। खमरा बिछुआ में मां दुर्गा और राधा कृष्ण मंदिर निर्माण कराने की घोषणा की।

रात्रि में ठिठुरन भरी ठंड होते हुये पेंसनर्स एवं नगर के वरिष्ठ नागरिकों से मुलाकात कर उनकी कठनाईयों से रुबरू होकर हल करने का आश्वासन दिया। छिंदवाड़ा के बराबर आबादी वाले दूसरे शहरों से छिंदवाड़ा की तुलना करने पर मालूम पड़ता है की यह शहर अन्य शहरों से मीलों आगे है। साफ सुथरा शहर, शुद्ध हवा पानी और चारों ओर मनोरम सुंदर दृश्यावलि छिंदवाड़ा आने वालों का मन मोह लेती है। प्राकृतिक रूप से शहर सुंदर तो है ही कमलनाथ जैसे राजनेता के हार्दिक सौजन्य और जन सेवा की यथार्थ भावना से तो जैसे सोने में सुहागा वाली कहावत चरितार्थ यहां होती रहती हैं। बड़े बुजुर्ग हमेशा उन्हें आशीष देते नज़र आते हैं।

 

 

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz