लेखक परिचय

प्रवक्‍ता ब्यूरो

प्रवक्‍ता ब्यूरो

Posted On by &filed under चुनाव.


भोपाल, 4 अप्रैल ,09। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता पूर्व उपप्रधानमंत्री और राजग के प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी लालकृष्ण आडवाणी ने युवा पीढ़ी का आहवान किया कि वे मौजूदा चुनौतियों को स्वीकार करें। लोकसभा चुनाव एक महान अवसर है। इसके परिणाम देश को नई दिशा देंगे और 21वीं शताब्दी भारत की होगी।उन्होंने लोकसभा चुनाव में पार्टी को भारी बहुमत से विजयी बनाने और देश में एनडीए की सरकार के गठन के लिए जुट जाने का आग्रह किया। लालकृष्ण आडवाणी मुरैना और श्योपुर जिलों के कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को मुरैना में संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं का इतना बड़ा विशाल सम्मेलन देख कर ही अन्य दल भारतीय जनता पार्टी के बढ़ते जनाधार से चमत्‍कृत है और साख के मामले में भारतीय जनता पार्टी अन्य दलों से बेजोड़ है। साख और विश्वसनीयता के मामले में भारतीय जनता पार्टी की देश में कोई सानी नहीं है। पार्टी ने जो वायदा किया, उसे पूरा किया। वह चाहे छोटे रायों के गठन का हो, अथवा राष्ट्रीय सुरक्षा, किसानों की भलाई, अनुसूचित जाति, जनजाति, अल्पसंख्यकों के कल्याण का रहा हो, भारतीय जनता पार्टी ने अपने वायदों को पूरा करके कथनी और करनी में साम्य स्थापित किया है। यही पार्टी की बढ़त का आधार है। लोकसभा चुनाव में पार्टी को शानदार विजय मिलेगी और एनडीए की सरकार का गठन होगा। मुरैना पहुंचने पर लालकृष्ण आडवाणी का प्रदेश अध्यक्ष नरेन्द्र सिंह तोमर और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हार्दिक स्वागत किया।

नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि यह महान क्रांतिकारी बिसमिल की जन्मस्थली और वीरभूमि है। पार्टी की रीति-नीति से प्रभावित होकर बड़ी संख्या में विभिन्‍न राजनीतिक दलों के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की है। यह भारतीय जनता पार्टी के सर्वव्यापी और सर्वस्पर्शी होने का प्रमाण है। उन्होंने कहा कि मुरैना, श्योपुर भाजपा और जनसंघ का गढ़ रहा है, इसलिए 50 साल तक दिल्ली और भोपाल की कांग्रेस सरकारों ने इस क्षेत्र के साथ भेदभाव किया। लेकिन अब समय आ गया है कि हम शिवराजजी के विकास मिशन को दिल्ली से भी शक्ति दिलाएं और केन्द्र में भाजपा सरकार बनाएं। ताकि केन्द्र प्रवर्तित योजनाओं के जरिए मुरैना, श्योपुर का समग्र विकास सुनिश्चित हो सके। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आडवाणी जी का स्वागत करते हुए कहा कि प्रदेश की जनता ने पार्टी को विधानसभा चुनाव में दोबारा सत्ता सौंपकर पार्टी की नीतियों में विश्वास व्यक्त किया है। विधानसभा चुनाव में विजय का श्रेय भाजपा की विचारधारा, जनता की गुण-ग्राहकता और कार्यकर्ताओं के परिश्रम को है।

उक्त अवसर पर राष्ट्रीय सचिव प्रभात झा, मुरैना संसदीय क्षेत्र की प्रभारी माया सिंह, रुस्तम सिंह, मुंशीलाल, गजराज सिंह सिकरवार, शिवमंगलसिंह तोमर, रमेशचन्द्र गर्ग, कमलेश सुमन, दुगाZलाल विजय, संध्या राय, मेहरबान सिंह रावत, फूलसिंह बरैया, जयसिंह कुशवाह सहित बड़ी संख्या में पार्टी पदाधिकारी उपस्थित थे।

लालकृष्ण आडवाणी ने केन्द्र में कांग्रेसनीत यूपीए सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कांग्रेस ने आजादी के बाद से वंशवाद की राजनीति की है। इससे बड़ी हैरानी की बात क्या होगी कि यूपीए सरकार ने जिन पांच योजनाओं के लिए श्रेय लेने की कोशिश की, वे सभी एक ही परिवार के नाम पर प्रायोजित की गई हैं। यह देश की विभूतियों, क्रांतिकारियों का अपमान हैं। इस तरह देश में वंशवाद, परिवारवाद, नेतावाद और जातिवाद की घृणित राजनीति चल रही है जिससे लोकसभा चुनाव में निजात दिलाने का एक बड़ा अवसर है। उन्होंने आंचलिक जनता से नरेन्द्र सिंह तोमर को मुरैना संसदीय क्षेत्र से भारी बहुमत से जीताने का आग्रह करते हुए कहा कि उनकी जीत से केन्द्र में एनडीए की सरकार बनने के पश्चात क्षेत्र को लाभ होगा और चम्बल क्षेत्र विकास की दृष्टि से देश का अग्रणी क्षेत्र बनेगा। लालकृष्ण आडवाणी ने कहा कि 15वीं लोकसभा चुनाव के लिए राजनीतिक दलों ने घोषणा-पत्र जारी करके मात्र औपचारिकता निभाई है। भारतीय जनता पार्टी के घोषणा-पत्र का जनता के फोकस में आने और चर्चित होने से घोषणा-पत्र के प्रति जनता के विश्वास का पता चलता है। जनता मानती है कि भारतीय जनता पार्टी ने जब-जब जो-जो वायदा किया, उसको पूरा किया।

उन्होंने कहा कि पांच वर्षों में किसान, गरीब, मजदूर और गांव दुर्लक्ष्य के शिकार हुए हैं। देश में बड़ी विषमता का इससे बड़ा प्रमाण क्या होगा कि देश के 30 परिवारों की आय देश के 30 करोड़ परिवारों के बराबर हो गयी है। किसान कर्ज के बोझ से दब कर आत्महत्या कर रहे हैं लेकिन केन्द्र सरकार उनके प्रति तनिक भी संवेदनशील नहीं है। उन्होंने देश के सैनिकों की सेवा शर्तों में सुधार और संतुलन लाने की आवश्यकता रेखांकित की और कहा कि एनडीए के सत्ता में आने के बाद इन कार्यों को प्राथमिकता दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि सैनिकों की वीरता के लिए परमवीर चक्र तथा इसी तरह के और सम्मान दिए जाते हैं। लेकिन दुख की बात है कि उन्हें नकदी के रूप में अधिकतम 30 हजार रुपये ही दिए जाते हैं, यह देश के प्रहरियों के साथ क्रूर मजाक है। इस दिशा में तत्काल कार्यवाही किए जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के विस्तार और लोकिप्रयता के प्रति गैर भाजपा दलों में ईष्र्या है और उन्हें दिखने लगा है कि यूपीए सरकार की उलटी गिनती शुरू हो चुकी है और आने वाली सरकार भाजपा के नेतृत्व में ही बनेगी। कांग्रेस के गिरते ग्राफ की चर्चा करते हुए आडवाणी जी ने बताया कि बिहार में लालू प्रसाद यादव और लोकजनशक्ति पार्टी रामविलास पासवान ने कांग्रेस को 3 सीटें और उत्तरप्रदेश में मुलायम सिंह यादव ने 6 सीटें देने की बात कहकर कांग्रेस को औकात समझा दी है। इससे कांग्रेस की वास्तविकता जनता के सामने आ चुकी है। भारतीय जनता पार्टी अब समग्र भारत की पार्टी बन चुकी है। और उसके सत्ता में आने के लिए देश के आम आदमी में उत्साह और उत्सुकता है।

लालकृष्ण आडवाणी ने कहा कि अब समय आ गया है कि हम एक ही नारा बुलंद करें कि भारतीय जनता पार्टी जीतेगी, भारत जीतेगा। हमें व्यक्ति के बजाय राष्ट्र की चिंता करना है। राष्ट्रवाद हमारा एजेंडा है। इसके साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि देश के विभिन्‍न भागों में पहुंचने पर कांग्रेस की निराशाजनक तस्वीर उभरती है। प्रधानमंत्री डॉ.मनमोहन सिंह असम से चुने गए हैं लेकिन पांच वषों में असम और पूर्वात्तर रायों की कतई चिंता नहीं की। इस बात को लेकर जनता में आक्रोश है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि देश में व्याप्त गरीबी के लिए कांग्रेस अपने को दोषमुक्त नहीं कर सकती है। यदि कांग्रेस ने गरीबों के लिए ढकोसले बाजी करने के बजाय खुद काम किया होता तो आज देश में गरीबों की संख्या नगण्य होती है और उनके झोपड़ों की जगह पर मकान होते। भारतीय जनता पार्टी गरीबों की आंखों में भगवान के दर्शन करती है। भारतीय जनता पार्टी में कार्यकर्ता ही संगठन के कार्यक्रम और चुनाव अभियान की धूरी होता है। लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कमर कस ली है कि आने वाले 25 दिन कार्यकर्ताओं के लिए निर्णायक होंगे। शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश के साथ कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार के सौतेले व्यवहार की कड़े शब्दों में आलोचना करते हुए कहा कि इस स्थिति से मुक्ति का इलाज देश के मतदाताओं के पास है। कांग्रेस को सत्ता से बेदखल कर और लाल-ष्ण आडवाणी के नेतृत्व में एनडीए की सरकार की स्थापना के लिए प्राण-पण से जुट जाएं। मध्यप्रदेश के साथ की जा रही केन्द्र की बेइंसाफी का अंत होगा। मध्यप्रदेश की काटी गई बिजली और कोयला लाल-ष्ण आडवाणी जी के प्रधानमंत्री बनने पर खुद व खुद बहाल होगा। स्विर्णम मध्यप्रदेश बनाने का सपना पूरा होने में केन्द्र में एनडीए की सरकार का गठन मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने कांग्रेस की हताशा पर व्यंग्य करते हुए कहा कि कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष पचौरी मैदान छोड़कर भाग गए हैं। कमलनाथ और ज्‍योतिरादित्य अपने क्षेत्र में कैद हो गए हैं। लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की दुर्गति निश्चित है। उन्होंने कहा कि लालकृष्ण आडवाणी जी के प्रधानमंत्री बनने पर देश का किसान कर्ज मुक्त होगा। रायों के साथ होने वाला भेदभाव समाप्त होगा और देश की सुरक्षा सशक्त होगी।

मार्मिक शब्दों में शिवराज सिंह चौहान ने मुरैना संसदीय क्षेत्र से नरेन्द्र सिंह तोमर को विजयी बनाने का आग्रह करते हुए कहा कि केन्द्र से कांग्रेस को अपदस्थ करना समय की आवश्यकता है। आडवाणी जी के नेतृत्व में देश की राजनीति, अर्थनीति को नई दिशा मिलेगी। कार्यक्रम का संचालन किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष वेदप्रकाश शर्मा ने किया। आभार प्रदर्शन मुरैना के जिलाध्यक्ष नागेन्द्र तिवारी ने किया।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz