लेखक परिचय

जगमोहन ठाकन

जगमोहन ठाकन

फ्रीलांसर. यदा कदा पत्र पत्रिकाओं मे लेखन. राजस्थान मे निवास.

Posted On by &filed under गजल.


questionजग मोहन ठाकन

अजीब से हालात हैं ,   हम क्या करें ?

उलझे हुए सवालात हैं , हम क्या करें ?

एफ डी आर्इ विदेशी   फंदा लग रहा ,

ये लोगों के ख्यालात हैं ,हम क्या करे ?

धर्मों को उलझाकर  कुछ न पा सके तो ,

तंत्र खुफिया को उलझात हैं,हम क्या करें?

कुत्ता मरने पर   दुख किसी को होता है ,

” वो^  कुत्ता लाश पर गुर्रात हैं, हम क्या करें ?

जनता आम की  चिंता नहीं है  किसी को ,

विकास महंगार्इ को बतात हैं ,हम क्या करें ?

हर  हालत में कुर्सी उनकी  बनी रहे ,

”और मुददे तो बेबात हैं, हम क्या करें ?

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz