Posted On by &filed under राजनीति.


मंगलवार को संसद भवन परिसर में भारतीय जनता पार्टी संसदीय दल की बैठक में पार्टी के स्थापना दिवस और अंबेडकर जयंती पर देशभर में कार्यक्रम आयोजित करने पर विचार हुआ। पीएम मोदी ने जहां तीन साल पूरे होने पर सरकार की उपलब्धियों को जनता के बीच ले जाने के निर्देश दिए, वहीं सांसदों को सदन में ज्यादा से ज्यादा उपस्थिति दर्ज कराने की नसीहत भी दी।
सांसदों की सदन में उपस्थिति को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुरू से संजीदगी दिखाते रहे हैं और बीजेपी की अनेक बैठकों में संसद सदस्यों को संसद की कार्यवाही में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेने की हिमायत कर चुके हैं। मंगलवार को बीजेपी संसदीय दल की बैठक में पीएम मोदी ने एक बार फिर सांसदों को ज्यादा से ज्यादा समय सदन में बिताने की नसीहत दी है। पीएम की नसीहत को सदस्यों ने प्रेरणादायी बताया है।

बीजेपी संसदीय दल की बैठक में 6 अप्रैल को होने वाले पार्टी के स्थापना दिवस को पूरे देश भर में जोर शोर से मनाने का फ़ैसला हुआ है। इस मौके पर ग्राम पंचायतों के प्राथमिक सदस्यों का सम्मेलन आयोजित किया जाएगा। साथ ही 14 अप्रैल को बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की जयंती के मौके पर भी देश भर में कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। जिसमें भीम एप के बारे में जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। इसमें बीजेपी के तमाम सांसद और विधायक भी हिस्सा लेंगे।

जीएसटी को कैबिनेट से मिली स्वीकृति के बाद हुई पहली बैठक में जीएसटी को लेकर चर्चा हुई, जिसमें पीएम ने कहा कि अधिकारियों और व्यापारियों के बीच संवाद होना चाहिए, ताकि जीएसटी के संबंध में पूरी जानकारियों का आदान-प्रदान हो सके। केंद्र सरकार 26 मई को तीन साल पूरे कर रही है। सरकार की तीन साल की उपलब्धियों को जनता के बीच ले जाने के लिये भी सांसदों को स्पष्ट निर्देश दिए गए।

Comments are closed.