Posted On by &filed under उत्तर प्रदेश, राज्य से.


महिलाओं ने शराब की दुकानों पर बोला धावा

महिलाओं ने शराब की दुकानों पर बोला धावा -कानपुर समेत पूरे उत्तर प्रदेश में शराब की दुकानों के खिलाफ जो विरोध शनिवार से शुरू हुआ है वो थमने का नाम नहीं ले रहा है. उत्तर प्रदेश के अलग-अलग ज़िलों में भी शराब की दुकानें स्थानीय लोगों के निशाने पर आ रही हैं. कानपुर के बजरिया मोहल्ले में मंगलवार को शहर के बीचोंबीच स्थित तीन शराब की दुकानों पर लोगों ने हल्ला बोल दिया.

परसिया गांव की महिलाओं ने भी शराब की दुकानों पर धावा बोला और ताले तोड़ डाले। महिलाओं ने दुकान पर मौजूद सेल्समैनों को भी खदेड़ दिया।मोहल्ला नेकपुर और सिधपुर चित्रसेन क्षेत्रों से भी ऐसी ही खबरें हैं। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर महिलाओं को शांत कराया।
अपर जिलाधिकारी :प्रशासन: अजय कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि एक दल का गठन किया गया है जो मौके पर जाकर मामले को हल करेगा। दल महिलाओं और शराब के दुकानदारों से बातचीत करेगा, दस्तावेजों की जांच करेगा और रिपोर्ट जिलाधिकारी को सौंपेगा।

कानपुर के बजरिया मोहल्ले में शराब की तीन दुकानें सुबह खुली ही थीं कि लोगों के एक हुजूम ने दुकानों पर पथराव शुरू कर दिया. दुकानवाले जैसे-तैसे दुकानों को बंद करके भाग खड़े हुए.

बजरिया की स्थानीय महिलाओं का कहना हैं की , शराबियों के कारण महिलाओं का निकलना मुश्किल हो जाता है.महिलाओं पर फब्तियां भी कस्ते हैं. हम लोगों ने शिकायत भी की है, पर उसका कोई असर नहीं हुआ. इसलिए हम लोग अब आवाज़ उठा रहे हैं.

Comments are closed.