Posted On by &filed under अपराध, राजनीति.


नयी दिल्ली. रोहित वेमुला मामले और पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदम्बरम के पुत्र कार्ति चिदम्बरम पर राज्यसभा में हंगामा जारी रहा. इस हंगामे को देखते हुए कांग्रेस सांसद गुलाम नबी आजाद ने कहा कि यह सत्तारुढ़ दल की साजिश है. हंगामें के कारण राज्यसभा की कार्यवाही एक बार फिर 3 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गयी. 2 बजे कार्यवाही शुरू होने के बाद कांग्रेस ने विशेषाधिकार हनन का नोटिस दिया जिसे स्वीकार कर लिया गया है. उपसभापति कुरियन ने विपक्षी सांसदों से कहा कि विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव पर सभापति फैसला करेंगे. भाजपा सांसद मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि सरकार की ओर से विपक्ष के द्वारा उठाए गए सवाल का जवाब दिया जा चुका है.
इससे पहले आज सुबह दोनों सदनों की कार्रवाई हंगामें के कारण शुरू होते ही स्थगित करनी पड़ी. लोकसभा में कार्रवाई शुरू होते ही विपक्ष के हंगामें के कारण सदन सवा 11 बजे तक के लिए स्थगित किया गया. उसे बाद दुबारा कार्रवाई शुरू हुई लेकिन फिर एक बार हंगामें के कारण स्थगित कर दिया गया. वहीं राज्यसभा की कार्रवाई 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गयी. एआईडीएमके के सांसद बेल में आकर हंगामा कर रहे थे. स्मृति ईरानी के बयानों पर उठा हंगामा अभी थमा भी नहीं है कि केंद्रीय मानव संसाधन राज्यमंत्री रामशंकर कठेरिया अपने बयान से विवादों में आ गये हैं. पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम को लेकर अन्नाद्रमुक सांसदों के विरोध के बीच लोकसभा की कार्रवाई एक बार फिर दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी गयी.
 सदन की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष ने हंगामा शुरू कर दिया जिसकी वजह से राज्यसभा और लोकसभा को थोड़ी देर के लिए स्थगित करना पड़ा. विपक्ष के सदस्य हमें न्याय चाहिए के नारे लगा रहे थे. कांग्रेस ने रामशंकर कठेरिया के बयान को लेकर दोनों सदनों में काम रोको प्रस्ताव दिया थौ. कठेरिया ने एक भाषण में हिन्दुओं को अपनी ताकत दिखाने के लिए ललकारा. आगरा में एक वीएचपी नेता की हत्या के बाद श्रद्धांजलि सभा में शरीक होने पहुंचे कठेरिया यहीं नहीं रुके उन्होंने कहा कि प्रशासन ये न समझे की मंत्री बनने से मेरे हाथ बंध गये हैं, वे भी कभी लाठी-डंडा लेकर चलते थे, हालांकि कठेरिया ने सफाई दी है कि उन्होंने कुछ भी भड़काऊ नहीं कहा है.
वहीं रोहित वेमुला की खुदकुशी के मामले में संसद में गलतबयानी कर स्मृति ईरानी विपक्ष के निशाने पर आ गई हैं. विपक्ष आज उनके खिलाफ विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव ले आया है. विपक्ष का आरोप है कि स्मृति ईरानी ने रोहित वेमुला मामले में संसद को गुमराह किया है. विपक्ष स्मृति ईरानी से माफी मांगने की मांग कर रहा है. सोमवार को जब वित्त मंत्री जब बजट भाषण पढ़ने के लिए खड़े हुए तो विपक्ष ने अपने विशेषाधिकार हनन नोटिस की स्थिति जानने के लिए हंगामा भी किया हालांकि स्पीकर ने अभी इस नोटिस पर कोई फैसला नहीं लिया है.
चिदंबरम के बेटे को लेकर अन्नाद्रमुक का हंगामा
पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदम्बरम के पुत्र से जुडे कथित भ्रष्टाचार के मामले में केंद्र सरकार से कार्रवाई करने की मांग करते हुए अन्नाद्रमुक सदस्यों के भारी हंगामे के कारण लोकसभा की कार्यवाही एक बार के स्थगन के बाद साढे 11 बजे आधे घंटे के लिए स्थगित कर दी गई. अन्नाद्रमुक सदस्यों ने केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री से इस मामले में कार्रवाई करने की मांग की. आज सुबह सदन की कार्यवाही शुरू होते ही अन्नाद्रमुक सदस्य नारेबाजी करते हुए अध्यक्ष के आसन के पास आ गए. अन्नाद्रमुक सदस्य अपने हाथों में एक समाचार पत्र लिये हुए थे जिसमें पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम के पुत्र से जुडे कथित भ्रष्टाचार के मामलों का उल्लेख था.smriti-irani

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

* Copy This Password *

* Type Or Paste Password Here *