Posted On by &filed under अपराध, राजनीति, समाज.


जेएनयू में राष्ट्र विरोधी नारेबाजी प्रकरण के बाद जाधवपुर यूनिवर्सिटी में अफजल गुरू के समर्थन में नारेबाजी को लेकर एक नामी साइट पर एचपीयू के एसएफआई नेताओं और कार्यकर्त्ताओं की फोटो अपलोड कर दी गई है। हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय की एसएफआई इकाई ने एक नामी वैबसाइट के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है। हालांकि पुलिस ने कोई भी मामला दर्ज नहीं किया है।

एसएफआई ने शिकायत पत्र में आरोप लगाया है कि 15 फरवरी को जेएनयू विवाद को लेकर विश्वविद्यालय कैंपस में धरना-प्रदर्शन किया था। इसके साथ ही देशद्रोही नारे लगाने वालों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की थी लेकिन अब उसी प्रदर्शन की तस्वीर को एक जानी-मानी वैबसाइट पर अपलोड किया गया है। तस्वीर में एचपीयू को जाधवपुर विश्वविद्यालय बंगाल दिखाया गया है। एसएफआई ने इसे संगठन की मानहानि व संगठन को बदनाम करने की साजिश बताते हुए वैबसाइट के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है।

default (7)एसएफआई का कहना है कि उनके पास प्रदर्शन की फोटो व वीडियो रिकार्डिंग समेत सभी सबूत मौजूद हैं। एसएफआई इकाई के अध्यक्ष नोवल ठाकुर ने कहा कि हमने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है कि एक नामी वैबसाइट ने एचपीयू शिमला एसएफआई के धरने की फोटोग्राफ जाधवपुर विवि के नाम पर लगा दी है। इससे एसएफआई की छवि खराब हुई है। ऐसी वैबसाइट के खिलाफ मुकद्दमा दर्ज करने की मांग गई है। इस मामले पर उग्र आंदोलन किया जाएगा।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz