Posted On by &filed under अपराध.


02lead2देश के विभिन्न जेलों में 6,747 विदेशी कैदी, इनमें 41 पाकिस्तानी कैदी भी मौजूद
नई दिल्ली, 16 मई (हि.स.)। वर्ष 2013 के अंत में राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्यूरो द्वारा संकलित आंकड़ों के मुताबिक, देश की विभिन्न जेलों में कुल 6,747 विदेश कैदी रखे गए थे । इनमें से 41 पाकिस्तानी कैदी भी बंद है, जो अपनी राष्ट्रीयता की पुष्टि नहीं होने के कारण प्रत्यावर्तन की प्रतीक्षा कर रहे हैं ।भारत की जेलों में बंद विदेशियों में सबसे अधिक संख्या केंद्रशासित प्रदेश अंडमान एवं निकोबार द्वीप में 898 है। इसके अलावे आंध्र प्रदेश में 12 विदेशी कैदी है ,जबकि 53 विचाराधीन है। अरूणाचल प्रदेश में 24 विचाराधीन कैदी है। असम में 24 विचाराधीन और पांच कैद में । बिहार की बात करें तो 55 विचाराधीन और 12 कैद में, छत्तीसगढ़ में एक विचाराधीन, गोवा में 26 विचाराधीन और पांच कैद मे, गुजरात में 125 विचाराधीन और 22 कैद में, हरियाणा में 24 विचाराधीन 17 कैद में, हिमाचल में 31 विचाराधीन 63 कैद में जम्मू-कश्मीर में 76 विचाराधीन-40 नजरबंद और 25 कैद में है। कर्नाटक में 40 विचाराधीन और तीन कैद में, केरल में 58 विचाराधीन और चार कैद में, मध्य प्रदेश में 22 कैद में और 3 विचाराधीन है। देश का आर्थिक प्रदेश महाराष्ट्र में 615 विचाराधीन और 109 कैद में है, मणिपुर में 39 कैद में 19 विचाराधीन,वहीं मेघालय में 25 विचाराधीन और चार कैद में है। मिजोरम और नागालैंड की बात करें तो यहां यह संख्या शून्य है ।
पाकिस्तान से सटे पंजाब की बात करे तो यहां 60-60 की संख्या में दोनों है। राजस्थान में 46 विचाराधीन और 19 कैद में है, तमिलनाडु में 347 विचाराधीन है और 44 कैद में है, त्रिपुरा में 29 विचाराधीन और 13 कैद में हैं, देश की सबसे ज्यादा जनसंख्या वाले प्रदेश उत्तर प्रदेश में 205 विचाराधीन कैदी है तो 88 कैद में है। उत्तराखंड में 6 कैद में दो विचाराधीन, पश्चिम बंगाल में 2101 विचारादीन और 777 कैद में है। केंद्रशासित प्रदेश चंडीगढ़ में 8 कैद में चार विचाराधीन है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की बात करें तो 273 विचाराधीन और 92 कैद में है तथा एक नजरबंद । कुल मिलाकर देश भर में 2553 विदेशी कैदी भारतीय जेलों में बंद है, और 4353 विचाराधीन, जबकि 41 नजरबंद।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz