Posted On by &filed under राजनीति.


dipuबिहार में बढ़ती जा रही है आपराधिक घटनाऐं: दीपंकर

पटना, । भाकपा माले के महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य ने कहा है कि एक बार फिर अपहरण, अपराध और राजनीतिक हमलों की घटनायें बढ़ गयी हैं. पिछले दिनों हमारी पार्टी के नेता व जिला पार्षद कॉ. उपाध्याय यादव पर जहानाबाद में दिनदहाड़े कातिलाना हमला किया गया. एएफआईआर में जिन अपराधियों का नाम दर्ज है, उनमें से अभी तक किसी की भी गिरफ््तारी नहीं हुई है. इसी तरह, कॉ. भैयाराम यादव व अन्य हत्याकांड के हत्यारों को आज तक कोई सजा नहीं मिली है.श्री भट्टाचार्य ने कहा कि जदयू-राजद और सपा जैसी पार्टियों के विलय की बात जोरों पर है. लेकिन पहले नीतीश कुमार ने जीतनराम मांझी को निकाला और अब राजद ने पप्पू यादव को निकाल दिया है. यह किस प्रकार की एकता हो रही है. उत्तरप्रदेश में सपा की सरकार बेधड़क तरीके से भूमि अधिग्रहण को लागू कर रही है, किसानों से उसके अधिकार छीन रही है. बिहार में भी बियाडा से लेकर अन्य जमीनें पूंजीपतियों के हवाले की जा रही हैं. ऐसी स्थिति में इन दलों के बीच कोई विलय हो भी जाता है, तो ये देश के किसानों के बीच क्या संदेश देंगे!बिहार में लालू-नीतीश की सरकार ने 25 सालों में गरीबों के साथ विश्वासघात ही किया है. भूमि सुधार, गरीबों के न्याय आदि तमाम प्रश्नों पर इन दोनों नेताओं ने बिहार की जनता को छला है. इसलिए इन्हें अब 25 वर्षों का हिसाब देना होगा. नीतीश कुमार ने पहले भाजपा को खुश करने के लिए सबकुछ किया. अमीरदास आयोग को ठंडे बस्ते में डाला, भूमि सुधार की अनुशंसा को रद्दी की टोकरी में फंेक दिया. अब जब वे भाजपा के साथ नहीं है, फिर भी उनका वही रवैया है, गरीबों के साथ विश्वासघात का. आज पूरे बिहार में ठेका-मानदेय पर काम करने वाले कर्मचारी, शिक्षक सड़क पर हैं, लेकिन सरकार संवेदनहीन बनी हुई है. बिहार सरकार की नाकामी व वादाखिलाफी के सवाल पर माले राज्यव्यापी आंदोलन चला रहा है, इसे अब और गति दी जाएगी.उन्हेांने कहा कि बिहार में पहली बार हमारी पार्टी विधानपरिषद के चुनाव में भाग ले रही है. सीपीआई और सीपीआईएम से वार्ता चल रही है. हमारी कोशिश है कि देश व बिहार के अंदर वामदल एकजुट होकर काम करें और मजदूर-किसान आंदोलन का नेतृत्व करें. वामपंथियों व मजदूर-किसान आंदोलन की ताकतों को मोदी सरकार के खिलाफ लड़ने के साथ-साथ बिहार में भी राज्य सरकार के खिलाफ आंदोलन तेज करना चाहिए.इस अवसर पर पोलित ब्यूरो सदस्य कॉ. धीरेन्द्र झा ने कहा कि उत्तर पूर्वी बिहार में तूफान ने भयंकर तबाही मचायी है, लेकिन सरकार की ओर से मुआवजा व राहत कार्य अत्यंत धीमी गति से चल रहा है. किसान तबाह हो रहे है, मकान क्षतिग्रस्त है, लेकिन सरकार कोई ठोस पहलकमदी नहीं ले रही है. इस सवाल पर किसान सभा और खेमस मिलकर बडा अभियान चलाएगा. कॉ. मो. सलीम ने कहा कि भाजपा फर्जी तरीके से अपना सदस्य बना रही है. हमारे मोबाइल नंबर पर भी यह सूचना आई है कि वे भाजपा के सदस्य बन गये हैं. इस फर्जीवाड़ा के जरिए वह अपने को दुनिया की नंबर एक पार्टी साबित करना चाहती है. फर्जीवाड़ा करना भाजपाइयों की चारित्रिक विशिष्टता है, जो हाल के दिनों में और साफ हुआ है.

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz