Posted On by &filed under अपराध, राजनीति, समाज.


मुरथल कांड को लेकर केंद्रीय महिला एवं बाल कल्याण मंत्री मेनका गांधी ने बताया कि महिला आयोग की एक टीम जांच के लिए उस इलाके का दौरा करेगी जहां करीब 10 महिलाओं के साथ गैंगरेप किए जाने की खबरें सामने आ रही हैं. टीम मौके की जांच करके सच्चाई का पता लगाने की कोशिश करेगी.। जबकि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और डीजीपी ने चश्मदीदों से अपील की है कि वो बेखौफ होकर पुलिस को अपना बयान दें, उनकी पहचान को गुप्त रखा जाएगा और उनके बयान के आधार पर केस दर्ज होगा. पुलिस ने कुछ हेल्पलाइन नंबर जारी कर पीड़िताओं को भी बेखौफ होकर शिकायत दर्ज कराने के लिए कहा है.
इघर सोनीपत के एसपी अभषिेक गर्ग ने हरियाणा पुलिस के डीजीपी को अपनी जांच रिपोर्ट सौंप दी है. रिपोर्ट में गैंगरेप की पुष्टि नहीं हुई है. एसपी अभषिेक गर्ग ने कहा, प्रत्यक्षदर्शियों से पूछताछ के बाद गैंगरेप की पुष्टि नहीं हो पाई है. एसआईटी इस मामले की जांच कर रही है और वह एसआईटी जांच में सामने आने वाले तथ्यों पर भी विचार करेंगे।
इसबीच डीआईजी राजश्री ने हसनपुर गांव का दौरा किया है. इसी गांव के जीटी रोड पर महिलाओं के साथ कथित बदसलूकी की वारदात को अंजाम दिया गया था. पुलिस ने नजदीक के सुखदेव ढाबे पर जाकर भी पूछताछ की और यहां लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले. ढाबे के मालिक ने दावा किया था कि एक महिला उनके पास मदद मांगने आई थी लेकिन वो पूरे कपड़ों में थी. ढाबे के मालिक का कहना था कि महिला घबराई हुई जरूर थी लेकिन ऐसा नहीं लगता था कि उसके साथ रेप हुआ है.।
इस मामले में अभी तक किसी ने भी रेप या बदसलूकी की शिकायत दर्ज नहीं कराई है. हाल ही में कुछ चश्मदीदों ने खुफिया कैमरे के सामने बताया था कि भीड़ ने कुछ महिलाओं के साथ बदसलूकी की थी और उनके कपड़े फाड़ दिए थे. एक चश्मदीद ने दावा किया है कि प्रदर्शन कर रहे कुछ लोग लड़कियों को उठाकर ले गए थे और उनके साथ रेप किया । डर की वजह से न ही कोई पीड़ित महिला और न ही कोई चश्मदीद सामने आने को तैयार है.।jat-protest_145663433988_650x425_022816101248

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz