Posted On by &filed under राजनीति.


नगरोटा बगवां में परिवहन मंत्री जी एस बाली द्वारा निकाली गई आभार रैली की अध्यक्षता करने पहुंचे मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने गांधी ग्राऊंड में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि मैं प्रदेश में राजनीति करने के लिए नहीं आया हूं। राजनीति में आने का मेरा कोई इरादा नहीं था और न ही मैंने कांग्रेस पार्टी से कभी टिकट के लिए आवेदन किया। जनसेवा की भावना को देखते हुए जनता ने मुझे 6 बार मुख्यमंत्री का दायित्व सौंपा।
उन्होंने नगरोटा विधानसभा क्षेत्र के लिए कई घोषणाएं भी कीं। इस दौरान उन्होंने नगरोटा से ही संबंध रखने वाले हिमाचल प्रशासनिक सेवा के अधिकारी संजय धीमान की ‘वाइल्ड ब्यूटी ऑफ ट्राइबल हिमाचल’ शीर्षक पुस्तक का विमोचन भी किया। इसके बाद मुख्यमंत्री ने डा. राजेंद्र प्रसाद राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल टांडा में 9 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित एनाटॉमी ब्लाक, लैक्चर थियेटर और परीक्षा हॉल का लोकार्पण किया। इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री कौल सिंह ठाकुर भी उपस्थित रहे। कांग्रेस कार्यकर्त्ताओं द्वारा जी.एस. बाली को अगले चुनावों में भी भारी मतों से जीत दिलवाने की बात पर परिवहन मंत्री ने कहा कि कल किसने देखा है।
उन्होंने कहा कि वह कई बार सी.एम. सहित आला हाईकमान से नगरोटा बगवां से विकल्प ढूंढने के लिए कह चुके हैं। उन्होंने कहा कि पार्टी को नगरोटा से विकल्प ढूंढ लेना चाहिए। चुनाव परिणामों में पार्टी को हार से बचाने के लिए जी.एस. बाली ने मांग रखी कि आगे के चुनाव पार्टी चिह्न पर करवाए जाएं। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पार्टी चिह्न पर चुनाव करवाना अभी संभव नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा द्वारा अनेक पाठशालाओं को खोलने अथवा स्तरोन्नत करने के लिए उनका विरोध किया जाता है लेकिन मैं उन्हें साफ करना चाहता हूं कि बच्चों को शिक्षित करने के लिए यदि जरूरत हुई तो वह 5 किलोमीटर की दूरी पर भी स्कूल खोलेंगे तथा बच्चों को शिक्षित करेंगे।default (2)

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz