Posted On by &filed under राजनीति.


Uma-bha-mदुनिया की सबसे स्वच्छता नदी होगी गंगा: उमा भारती
रांची, केंद्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती ने कहा है कि अगले 10 वर्षो में गंगा को दुनिया की सबसे स्वच्छ नदी बनायेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भी यही इच्छा है। अगले 4 वर्षों में गंगा की सफाई पर 20 हजार करोड़ रूपये खर्च किये जायेंगे। केंद्र सरकार हर स्तर पर इस योजना की प्लानिंग कर रही है। देश के सारे पर्यावरणविदों के साथ ही विदेशों में भी इससे संबंधित तकनीकी जानकारी ली जा रही है। उन्होंने कहा कि जब तक पूरी तरह से स्पष्ट रोड मैप नहीं बन जाता इस प्रोजेक्ट पर काम नहीं किया जा सकता।
उमा भारती शुक्रवार को स्वयं सेवी संस्था युगांतर भारती द्वारा नामकुम में आयोजित राष्ट्रीय पर्यावरण महासम्मेलन में बोल रही थीं। उन्होंने कहा कि लोग यह कह रहे हैं कि गंगा सफाई को लेकर कोई काम अभी तक जमीन पर दिखाई नहीं दे रहा है। पर केंद्र सरकार ने इस बार फैसला किया है कि बिना स्पष्ट प्रोजेक्ट बनाये गंगा कि सफाई पर कोई काम नहीं किया जायेगा। जल संसाधन मंत्री ने बताया कि गंगा एक्शन प्लान में अब तक हजारों करोड़ रूपये खर्च किये जा चुके हैं पर इसका कोई नतीजा नहीं निकला। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि गंगा सफाई अभियान सिर्फ सरकार के भरोसे संभव नहीं है। इसके लिए समाज का सहयोग भी जरूरी है।
मंत्री ने कहा कि गंगा सफाई अभियान का कार्य 16 अक्टूबर से दिखाई देने लगेगा। पिछले कई महीनों से इस संबंध में सारे मुख्यमंत्रियों, विशेषज्ञों संबधित विभागों के सचिव से बातचीत हो गयी है। साथ ही कई एक्सपर्ट टीमें भी बनायी गई हैं। उन्होंने कहा कि यह एक वृहद कार्य है। इसके कई आयाम हैं। सिर्फ सफाई से जुड़ा मामला नहीं है। गंगा हमारे समाज और संस्कृति का हिस्सा है। इसके सारे पहलूओं का अध्ययन किया जा रहा है। जल संसाधन मंत्री ने कहा कि इसके साथ ही नदियों को जोड़ने की योजना पर भी काम किया जा रहा है। इस संबंध में पर्यावरणविदों से बात की जा रही है।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz