Posted On by &filed under समाज.


9414bea3-bdbd-488e-87d8-50b62eb9f69eयोजना ‘जन औषधि’ के तहत खोले जाएंगे एक हजार और स्टोर्स
नई दिल्ली,। केंद्र सरकार लोगों को कम दामों में गुणवत्तापूर्ण दवाई उपलब्ध कराने के लिए सतत प्रयास कर रही है । सरकार ‘जन औषधि योजना’ के तहत करीब एक हज़ार और स्टोर्स खोलने का प्रस्ताव किया है। स्टोर्स के खुलने से लोगों को सस्ते दरों पर गुणवत्तापूर्ण जेनरिक दवाई मिल सकेंगे ।
रसायन और उर्वरक राज्य मंत्री हंसराज अहिर ने कहा, ‘ये स्टोर्स ग़रीब और वंचितों के लिए खोले जाएंगे, जिससे कि उन्हें बाज़ार मूल्यों से करीब 60 से 70 फ़ीसदी कम दरों दवाई उपलब्ध कराई जाएगी।’ उन्होंने आगे कहा कि उनका मंत्रालय जन-धन औषधि योजना के तहत एक ही दिन में 1000 स्टोर्स खोलने पर कार्य कर रहा है । इसके लिए स्टोकरों का फिर से नामकरण और ब्रांडिंग की जाएगी, जिसमें फार्मा उपाधि धारक बेरोजगारों को शामिल किया जाएगा ।रसायन और उर्वरक राज्य मंत्री हंसराज अहिर भारतीय सामाजिक दायित्व नेटवर्क (आईएसआरएन) द्वारा आयोजित दो दिवसीय कार्यशाला के दौरान ये बातें कही ।गौरतलब है कि सरकार की ‘जन औषधि’ योजना के तहत देश में जगह-जगह सरकारी मेडिकल स्टोर्स खोलने की योजना है । योजना के तहत सरकार निजी और सार्वजनिक दवा निर्माता कम्पनियों से गुणवत्ता वाली जेनरिक दवाईयां थोक में खरीदेगी और इन्हें जन औषधि उत्पाद के नाम से रिब्रांड कर लोगों को उपलब्ध करवाएगी । ये जेनरिक दवाईयां बाजार में उपलब्ध अन्य ब्रांड्स से करीब 70 प्रतिशत सस्ती होंगी । योजना में 504 दवाईयां सस्ते दामों पर उपलब्ध करवाई जाएगी। योजना की शुरूआत टॉप 100 दवाईयां से की जाएगी। ये दवाईयां एंटीबॉयोटिक, दर्द निवारक, विटामिन्स, डायबिटीज, श्वास और ह्वदय रोगों से संबंधित होंगी। इन दवाईयों को चयनित मेडिकल स्टोर्स पर उपलब्ध करवाया जाएगा । सरकारी अधिकारियों के मुताबिक दवाईयों के सैम्पल और उत्पादन को लेकर कठोर नियम बनाए हैं ।
हिन्दुस्थान समाचार/विद्या नन्द/नीरज

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz