Posted On by &filed under खेल-जगत.


आटो रिक्शा ड्राइवर ने निशानेबाज बेटी को सपने साकार करने के लिये पांच लाख की राइफल दी

आटो रिक्शा ड्राइवर ने निशानेबाज बेटी को सपने साकार करने के लिये पांच लाख की राइफल दी

एक आटो रिक्शा चालक ने अपनी राष्ट्रीय स्तर की निशानेबाज बेटी को जर्मनी में पांच लाख रूपये की बनी राइफल भेंट की। यह राशि इस ड्राइवर ने अपनी 27 साल की बेटी की शादी के लिये रखी हुई थी।

मनीलाल गोहली :50 वषर्: ने अपनी जिंदगी की कमाई खर्च करने का फैसला अपनी बेटी के जुनून को पूरा करने के लिये किया। गोहली ने अपनी बेटी मित्तल को निशानेबाजी का सपना पूरा कर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय चैम्पियनशिप में पदक जीतकर देश को गौरवान्वित करने के लिये यह निर्णय लिया।

गोहली ने पीटीआई से कहा, ‘‘मित्तल ने जब से 2012 में शौक के तौर पर निशानेबाजी में हाथ आजमाये, तभी से विभिन्न चैम्पियनशिप में भाग लेना शुरू कर दिया। हम राइफल का खर्चा नहीं उठा सकते थे तो वह अन्य निशानेबाजों और राइफल क्लब से उधार लेती थी। लेकिन मैंने महसूस किया कि उसे राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर की चैम्पियनशिप में पदक हासिल करने के लिये शीर्ष स्तर की राइफल की जरूरत है। ’’ गोहली प्रतिदिन 500 रूपये कमाते हैं, वह अपने परिवार के साथ गोमतीपुर में रहते हैं, जिसमें मित्तल और दो बेटे शामिल हैं। उन्हें अपने बेटे से भी मदद मिलती है जो केबल नेटवर्क व्यवसाय में है।

गोहली ने कहा, ‘‘हर पिता की तरह मैं भी मित्तल की शादी के लिये पैसा बचाता था। लेकिन मैंने महसूस किया कि उसे बेहतर प्रदर्शन करने के लिये राइफल की जरूरत है। इसलिये मैंने अपनी बचत राशि का इस्तेमाल 50 मीटर की रेंज की जर्मनी में बनी राइफल खरीदने में किया जो पांच लाख रूपये की है। पिता के तौर पर यह सुनिश्चित करना मेरा कर्तव्य है कि मेरी बेटी को अपने जुनून को पूरा करने में किसी तरह की मुश्किल का सामना नहीं करना पड़े। ’’

( Source – पीटीआई-भाषा )

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz