Posted On by &filed under राजनीति.


उत्‍तर प्रदेश के घाटमपुर में 1980 मेगावाट क्षमता वाली कोयला आधारित ताप बिजली परियोजना को मंजूरी

उत्‍तर प्रदेश के घाटमपुर में 1980 मेगावाट क्षमता वाली कोयला आधारित ताप बिजली परियोजना को मंजूरी

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में मंत्रिमंडल के आर्थिक मामलों की समिति ने 1980 मेगावाट क्षमता वाली (3 X 660 मेगावाट) कोयला आधारित घाटमपुर ताप बिजली परियोजना (जीटीपीसी) की स्‍थापना को अपनी मंजूरी दे दी है। इसे ‘नेयवेली उत्‍तर प्रदेश पावर लिमिटेड (एनयूपीपीएल)’ नामक संयुक्‍त उपक्रम कंपनी के माध्‍यम से स्‍थापित किया जाना है, जिसे नेयवेली लिगनाइट कारपोरेशन लिमिटेड (एनएलसी) और उत्‍तर प्रदेश राज्‍य विद्युत उत्‍पादन लिमिटड (यूपीआरवीयूएनएल) द्वारा संयुक्‍त रूप से गठित किया गया है।

इस परियोजना को निर्माण के दौरान 3,202.42 करोड़ रूपये ब्‍याज घटक सहित 17,237.8 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से कार्यान्वित किया जाएगा। शुरूआत की तिथि से परियोजना की पहली इकाई, दूसरी इकाई और तीसरी इकाई में उत्‍पादन का काम क्रमश: 52 महीने, 58 महीने और 64 महीने में शुरू हो जाएगा। इस उत्‍पादन का लाभ 13वीं पंचवर्षीय योजना अवधि में मिलने लगेगा। जीटीपीएस द्वारा उत्‍पादन की गई बिजली (लगभग 14000 एमयू प्रतिवर्ष) की आपूर्ति मुख्‍य रूप से उत्‍तर प्रदेश के लिए की जाएगी।

जीटीपीएस में कोयले की आवश्‍यकता को पूरा करने के लिए कोयला मंत्रालय ने झारखंड राज्‍य स्थित पचवाड़ा दक्षिणी कोयला ब्‍लॉक आबंटित किया था।

( Source – PIB )

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz