Posted On by &filed under राजनीति.


यूडीएफ और भाजपा का केरल विधानसभा से बहिर्गमन

यूडीएफ और भाजपा का केरल विधानसभा से बहिर्गमन

माकपा के एक कार्यकर्ता पर कथित हमले के सिलसिले में कन्नूर जिला के कांग्रेस के दलित नेता की दो बेटियों की गिरफ्तारी के मुद्दे पर चर्चा की इजाजत नहीं मिलने पर कांग्रेस नीत विपक्षी संयुक्त लोकतांत्रिक मोर्चा के साथ भाजपा के इकलौते विधायक ने केरल विधानसभा से बहिर्गमन किया।

केसी जोसफ :कांग्रेस: और एमके मुनीर :आईयूएमएल: की ओर से पेश स्थगन प्रस्ताव नोटिस का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री पी. विजयन ने कहा कि यह मुद्दा ‘‘इतना अहम नहीं है कि इसके लिए कार्यवाही रोक दी जाए और इसपर चर्चा की जाए।’’ मुख्यमंत्री ने कहा कि एक मामला दर्ज किया गया है और जांच जारी है। पहले आरोपी को गिरफ्तार किया गया है।

उल्लेखनीय है कि पुलिस ने माकपा कार्यकर्ता शिजिल की तरफ से 11 जून को दायर शिकायत पर इंटक नेता एन. राजन की बेटियों, अखिला और अंजना के खिलाफ एक मामला दर्ज किया था।

विजयन ने बताया कि दोनों महिलाएं जमानत लेने के लिए तैयार नहीं हुईं। इसके बाद अदालत ने उन्हें हिरासत में भेज दिया। अगले दिन एक महिला ने कथित रूप से दवाओं का ओवरडोज ले लिया।

मुख्यमंत्री ने बताया कि गिरफ्तारी के दौरान पुलिस ने सभी प्रक्रियाओं का पालन किया। जब दोनों महिलाओं को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया तो मजिस्ट्रेट पर भी आरोप लगाए गए।

विजयन के जवाब के बाद विधानसभा अध्यक्ष पी. श्रीरामकृष्णन ने इस मुद्दे पर चर्चा की इजाजत नहीं दी।

( Source – पीटीआई-भाषा )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

* Copy This Password *

* Type Or Paste Password Here *