Posted On by &filed under आर्थिक, उत्तर प्रदेश, राज्य से, राष्ट्रीय.


गठित होगा मेक इन यूपी विभाग

गठित होगा मेक इन यूपी विभाग

केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार की Þमेक इन इंडिया Þ की परिकल्पना की Þसफलता Þ का लाभ उठाने के लिये उ}ार प्रदेश में अलग से Þमेक इन यूपी Þ विभाग बनाया जाएगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में कल यहां सम्पन्न मंóािपरिषद की बैठक में Þउ}ार प्रदेश औद्योगिक निवेश एवं रोजगार प्रोत्साहन नीति-2017 Þ को अनुमोदित किया गया।

नीति में कहा गया है, Þ Þमेक इन इण्डिया की सफलता का लाभ उठाने के लिये प्रदेश में एक समपर्ति Þमेक इन यूपी Þ विभाग की स्थापना की जाएगी। इस विभाग के तहत उद्योग एवं सेक्टर विशिष्ट राज्य निवेश तथा विनिर्माण क्षेत्र (एसआईएमजेड) को चिन्हित एवं सृजित किया जाएगा। Þ Þ नीति में कहा गया है कि Þमेक इन इंडिया Þ कार्यक््रम ने पूरी दुनिया का ध्यान आकृष्ट किया है। इससे क्षमता विकसित करने, बौद्धिक सम्पदा का संरक्षण तथा श्रेष्ठ विनिर्माण ढांचा तैयार करने में मदद मिली है। मेक इन इंडिया की तर्ज पर बनने वाले Þमेक इन यूपी Þ कार्यक््रम में ऐसी रणनीति अपनायी जाएगी, जिससे प्रदेश को विनिर्माण का प्रमुख केन्द्र बनाया जा सके।

इस नीति का लक्ष्य राष्ट्रीय तथा अन्र्ताष्ट्रीय स्तर पर उ}ार प्रदेश को प्रतिस्पर्धी निवेश गंतव्य के रूप में स्थापित करना है, जिससे रोजगार सृजित हो सके तथा प्रदेश के स्थायी, समेकित तथा संतुलित आथर्कि विकास को बल मिले।

नीति के अनुसार राज्य में वाणिज्यिक गतिविधियों को सुरक्षा प्रदान करने के लिये नोएडा, कानपुर, गोरखपुर, बुन्देलखण्ड तथा पूर्वाचल जैसे औद्योगिक क्लस्टराक्षेत्र में विशेष अधिकारी के नेतृत्व में समपर्ति पुलिस बल को तैनात किया जाएगा। प्रमुख औद्योगिक क्लस्टराक्षेत्रों में एकीकृत पुलिस सह अग्निशमन स्टेशन भी स्थापित किए जाएंगे।

प्रदेश के उद्योगों तथा विनिर्माण इकाइयों को बिना किसी परेशानी के परिवहन के विभिन्न साधनों के उपयोग से भारत एवं विदेशी बाजारों में उनके उत्पाद को पहुंचाने में सहायता प्रदान करने के लिये वायु, जल, सड़क एवं रेल नेटवर्क का एक सम्पर्क जाल बनाया जाएगा।

इस क््रम में लखनउ एवं नोएडा में मौजूद मेट्रो सेवाओं में विस्तार के साथ-साथ कानपुर, मेरठ, आगरा, वाराणसी, इलाहाबाद, गोरखपुर, झांसी एवं गाजियाबाद नगरों में भी मेट्रो सेवाओं का विकास तथा प्रमुख राज्य राजमार्गो को चौड़ा करके एवं सृदृढ़ बनाकर यातायात संचालन को सुगम किया जाएगा।

निवेश को प्रोत्साहन देने एवं ब्राण्ड उ}ार प्रदेश के विपणन को सुनिश्चित करने के मद्देनजर उ}ार प्रदेश को वैश्विक निवेश केन्द्र के रूप में प्रस्तुत किये जाने के लिये Þग्लोबल इन्वेस्टर समिट Þ आयोजित की जायेगी। इसकी तारीख बाद में तय की जाएगी।

( Source – PTI )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

* Copy This Password *

* Type Or Paste Password Here *