Posted On by &filed under राजनीति.


javdekarआदर्श ग्राम योजना प्रशासन की जवाबदेही बढाने का प्रयास – प्रकाश जावड़ेकर
सतना,। केन्द्रीय वन पर्यावरण जलवायु परिवर्तन राज्यमंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा कि आदर्श ग्राम योजना केवल एक गॉव को विकसित करना ही लक्ष्य नही है बल्कि यह प्रशासन की जवाबदेही और लोगो की विकास कार्यो में भागीदारी बढाने का प्रयास भी है।केन्द्रीय राज्यमंत्री जावडेकर आरोग्यधाम चित्रकूट में पत्रकारो को संबोधित करते हुये आदर्श ग्राम पालदेव में अब तक हुये कार्यो प्रस्तावित कार्यो तथा निष्कर्सो की जानकारी दे रहे थे। इस मौके पर प्रदेश के ऊर्जा खनिज साधन जनसंपर्क मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री राजेन्द्र शुक्ल, सांसद गणेश सिंह, विधायक नारायण त्रिपाठी भी उपस्थित थे।केन्द्रीय राज्यमंत्री जावडेकर ने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा देशभर की प्रदूषित नदियों को स्वच्छ करने का काम हाथ मे लिया गया है। गंगा से शुरूआत कर शेष नदियों को भी इस पहल में जोड़ा जायेगा। उन्होने कहा कि आदर्श ग्राम योजना के तहत गॉव की मूलभूत आवश्यकताओं और विकास के सूचकांक शिक्षा स्वास्थ्य पानी खेती पर विशेष ध्यान देने का प्रयास किया जा रहा हैं। पिछले सात महिने से लोगो में अपने गॉव को विकसित करने की ललक जाग्रत हुई है और गॉव वालों के प्रयास से आदर्श गॉव की तस्वीर भी सुधर रही है। उन्होंने कहा कि विकास निरन्तर सुधार की प्रक्रिया होती है। मंदाकिनी के जल सफाई अभियान की सराहना करते हुये उन्होने कहा कि सफाई के काम से १५ जल स्त्रोत पुन: खुल गये है जो एक बडी उपलब्धि है । जिले की सतना नदी को भी योजना मे शामिल कराने का प्रयास किया जायेगा।प्रभारी मंत्री राजेन्द्र शुक्ल ने कहा कि लोकमहत्व की मांग के अनुरूप बहुप्रतीक्षित मंदाकिनी नदी की शुद्घीकरण के लिये मंदाकिनी सीवर प्लान के तहत अभी ६ करोड रूपये प्राप्त हुआ है। जिससे मंदाकिनी मे मिलने वाले नालो का गंदा पानी सीधे पम्पिंग स्टेशन में जाकर शुद्घ होगा और मां मंदाकिनी के जल को प्रदूषित नही करेगा। एक माह में निर्माणाधीन कार्य पूरा कर अगली किश्त के लिये पुन: प्रस्ताव भेजा जायेगा।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz