मेघालय में 1200 ईसापूर्व से मौजूद है खासी जनजाति, शिलाओं से मिले संकेत

Posted On by & filed under समाज

मेघालय के री-भोई जिले में मिली प्राचीन शिलाएं और औजार यह संकेत देते हैं कि राज्य की सबसे बड़ी जनजातियों में से एक खासी जनजाति इस राज्य में 1200 ईसा पूर्व से मौजूद है। पुरातत्ववेत्ता मार्को मित्री और नॉर्थ ईस्टर्न हिल्स यूनिवर्सिटी के शिक्षाविदों के एक दल ने एनएच-40 के पास सोहपेटबनेंग चोटी की उत्तरी… Read more »