लेखक परिचय

श्रीराम तिवारी

श्रीराम तिवारी

लेखक जनवादी साहित्यकार, ट्रेड यूनियन संगठक एवं वामपंथी कार्यकर्ता हैं। पता: १४- डी /एस-४, स्कीम -७८, {अरण्य} विजयनगर, इंदौर, एम. पी.

Posted On by &filed under कविता.


शपथ ग्रहण की वानगी ,देख हुआ जग दंग।

भले स्वजन रूठे रहें , या मजबूरन संग।।

रूठी दिखी वसुंधरा , आडवाणी बैचेन।

मुरली मनोहर की व्यथा,आंसू ढरते नैन ।।

शपथग्रहण शामिल हुए , नेता सब दक्षेश।

भारत-पाक मिल-बैठकर ,दूर करेंगे द्वेष ।।

ममता -माया -मुलायम ,नीतीश -जया -नवीन।

इनके बिना भी बज रही ,’नमो ‘नाम की बीन।।

मनसे -जया -उद्धव -अगप , करें सभी विश्राम।

राजद वसपा सपा संग ,जदयू नींद हराम।।

‘नमो”नमो’ के जाप से , भगवा दल खुश हाल ।

कौन हैं राहुल -सोनिया ,कौन केजरीवाल।।

सी बी आई शस्त्र से, खूब कराई जांच।

फिर भी ‘नमो’ की विजय पर ,तनिक न आई आंच।।

माताएं संसार की ,यह चाहत सब कोय।

‘हीरा-बा’ सा यश मिले ,पुत्र ‘नमो’ सा होय।।

श्रीराम तिवारी

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz