लेखक परिचय

शादाब जाफर 'शादाब'

शादाब जाफर 'शादाब'

लेखक स्‍वतंत्र टिप्‍पणीकार हैं।

Posted On by &filed under प्रवक्ता न्यूज़.


शादाब जफर ‘‘शादाब’’

हेल्पेज इंड़िया के सहयोग से वरिष्ठ नागरिक कल्याण समिति नजीबाबाद रजि. की ओर से वरिष्ठ नागरिक सम्मेलन का आयोजन आर.एन.केला इंटर कालेज नजीबाबाद में किया गया जिस में जिले के वरिष्ठ पत्रकारो, साहित्यकारो, कवि, शायरो, व राजनीतिक लोगो के साथ ही समाजसेवी संस्थाओ, छात्र छात्राओ अधिवक्ताओ के आलावा बड़ी तादात में युवाओ ने अपनी हिस्सेदारी इस सम्मेलन में दर्ज की। जिस में वरिष्ठ नागरिको के अधिकारो, आज के दौर में उन के अपने परिवारो व समाज में उन की स्थिति पर एक परिचर्चा का आयोजन किया गया। जिस में वक्ताओ ने एक मत ये आवाज बुलंद की के सभी वरिष्ट नागरिक, परिवार, समाज में सम्मान और अपनापन पाने के हकदार है, उन्हे स्नेह के साथ साथ पारिवारिक सुरक्षा भी मिलनी चाहिये। उम्र का एक बड़ा पडाव पार कर चुके इस वर्ग के साथ किये जा रहे उपेक्षित व गैर जिम्मेदाराना व्यवहार पर गहरी चिंता वयक्त की गई। इलैक्टानिक्स मीड़िया और प्रिंट मीड़िया से जुड़े पत्रकार, शायर शादाब जफर शादाब ने कहा कि गुजरे कुछ वर्षों मे हमारे घर परिवारो की तस्वीर तेजी से बदली है एक मॉ बाप दस दस बच्चो को पाल देते है पर दस दस बच्चो से एक माता पिता को नही पाला जाता। जिन बच्चो को मॉ बाप मेहनत मजदूरी कर के डाक्टर, इन्जीनियर, आईएस, पीसीएस बना कर समाज में मान सम्मान देते है। उन्ही बच्चो में से अधिकतर बच्चे आज अपना घर परिवार बसा, हाई सोसायटी से जुडकर अपने गरीब मॉ बाप को धीरे धीरे भूलने लगते है। अपना सारा जीवन बच्चो पर निछावर करने वाले लोग बूढापे में खुद को उस वक्त और ठगा सा महसूस करते है। जब औलाद नौकरी के कारण अपने इन बूढे मॉ बाप को पडोसियो अथवा गॉव वालो के सहारे छोड कर शहरो में जा बसते है। और इन लोगो के मॉ बाप गॉवो कस्बो में पडे रोटी के एक एक निवाले को मोहताज हो जाते है हद तो तब हो जाती है जब मरते वक्त कोई अपना इन के मुॅह में पानी डालने वाला भी नही होता। जिले के वरिष्ठ अधिवक्ता पूर्व एडीजीसी श्री हरपाल सिॅह एड़वोकेट जी ने माता-पिता और वरिष्ट नागरिक भरण-पोषण तथा कल्याण अधिनियम 2007 के विषय में उपस्थित वरिष्ठ नागरिको को विस्तार से जानकारी दी संसद द्वारा दिसम्बर 2007 में पारित यह कानून सभी 7 संघ राज्य क्षेत्रो सहित देश के 27 राज्यो द्वारा लागू किया जा चुका है। कार्यक्रम में उपस्थित भाजपा के बिजनौर विधानसभा सीट से विधायक श्री कुँवर भारतेंद्र जी से कहा कि अभी उत्तर प्रदेश सरकार ने इसे पारित नही किया अतः वो उत्तर प्रदेश विधानसभा में इस को पारित कराने का प्रयास करे। कार्यक्रम के मुख्यअतिथि विधायक श्री कुँवर भारतेंद्र सिॅह जी ने बुजुर्गा को सम्मान व अपनापन दिये जाने की वकालत करते हुए उन्होने बुजुर्गा से कहा की वो घर में खाली न बैठे बल्कि समाज सेवा में लगे रहे क्यो कि इंसान कभी बूढा नही होता सिर्फ शरीर बूढा होता है इस लिये हमारे बुजुर्ग अपने आप को विचारो से कभी बूढा न होने दे। वही उन्होने युवाओ से आग्रह किया की वो अपने, अपने पास पड़ोस में रह रहे वरिष्ठ नागरिको का सम्मान करे और उन्हे एक ऐसा पारिवारिक माहौल दे जिस ये हमारे बुजुर्ग हमेशा हस्ते मुस्कुराते रहे। वरिष्ठ नागरिक कल्याण समिति के जिला अध्यक्ष जसवंत सिंह ने वरिष्ठ नागरिको को स्वस्थ्य रहने व मान सम्मन पाने के टिप्स दिये। साहू जैन डिग्री कालेज के प्राचार्य डॉ. धीरेन्द्र सिंह, आर्य समाज इंटर कालेज की प्रधानाचार्या संतोष बाला गुप्ता, एमडीएस इंटर कालेज के प्रधानाचार्य हरबीर सिंह पूर्व जेलर केपी सिॅह, संस्था के संरक्षक बुद्वदेव शर्मा, नगर चैयरमैन मोअज्जम खां एडवोकेट, राजन टंडन गोल्डी, सरोज बाला, शिक्षाविद इंद्रदेव भारती, आदि ने सम्बोधित किया। संस्था की ओर से समारोह में नगर के वरिष्ठतम नागरिक स्वतंत्रता सेनानी व पत्रकार वरिष्ठ नागरिक कल्याण समिति के प्रथम संस्थापक श्री जगदीश प्रसाद जाखेटिया,गोवर्धन प्रसाद घिल्डियाल, बालमुकंद जगन सिंह जी को कार्यक्रम के मुख्यअतिथि विधायक श्री कुँवर भारतेंद्र सिॅह व नगर पालिका नजीबाबाद के चैयरमैन मोअज्जम खां एडवोकेट द्वारा शॉल उढाकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में एमडीकेवी की छात्राओ द्वारा सरस्वती वंदना प्रस्तुत की गई। समारोह की अध्यक्षता कालेज के प्रबंधक कपिल कुमार सर्राफ व कार्यक्रम का सफल संचालन वरिष्ठ पत्रकार इकबाल हिंदुस्तानी ने किया। जिस के लिये उन्हे संस्था की ओर से स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित भी किया गया। राष्ट्रगान से कार्यक्रम का समापन हुआ। अंत में वरिष्ठ नागरिक कल्याण समिति के अध्यक्ष मास्टर महेंद्र गोयल ने कार्यक्रम को सफल बनाने के लिये उपस्थित सभी लोगो का आभार व्यक्त किया

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz