लेखक परिचय

प्रवक्‍ता ब्यूरो

प्रवक्‍ता ब्यूरो

Posted On by &filed under समाज.


pragya_2_9445113481मालेगांव विस्फोट मामले की एक प्रमुख अभियुक्त साध्वी प्रज्ञा ठाकुर पर भायखला जेल में एक कैदी ने हमला बोल दिया, जिससे उनके चेहरे और गले पर चोटें आ गई हैं। प्रज्ञा के वकील के मुताबिक उन्होंने महाराष्ट्र संगठित अपराध नियंत्रण कानून (मकोका) की अदालत में एक आवेदन देकर इस मामले में एक निजी शिकायत दर्ज कराने की अनुमति मांगी है।

मकोका अदालत के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश एम.आर.पुराणिक ने साध्वी प्रज्ञा की याचिका स्वीकार कर ली है। उनके वकील ने दावा किया कि प्रज्ञा को जेल में मुमताज शेख नामक कैदी गाली दी और उन्हें जेल से बाहर फेंकने की धमकी दी।

उसके बाद प्रज्ञा ने मुमताज के बारे में जेलर से शिकायत की थी। सोमवार को जब कैदी दोपहर का भोजन कर रहे थे, उसी समय मुमताज ने साध्वी पर कटोरे से हमला बोल दिया।

Leave a Reply

4 Comments on "साध्वी प्रज्ञा पर जेल में हमला"

Notify of
avatar
Sort by:   newest | oldest | most voted
DHARMENDER
Guest

IS SHARAMNAAK HADASE KE LIYE HAMARA APNA SAMAJ HI JIMMEDAR HAI JO EK SADHIVI JIS ABHI APRAKDH BHI SABIT NAHIN USE JAIL MEIN PITA JA RAHA HAI, AUR HUM LOG CHUP HOKAR BAITHE HAIN.

UTHO AUR MUHTOD JWAB DO IN CONGRESS KE CHAMCHO KO !

Ratan Singh
Guest

अफसोस जनक

सुरेश चिपलूनकर
Guest

साध्वी प्रज्ञा की गलती यह है कि वह हिन्दू है, यदि मदनी जैसी होती तो उसे 3 डाक्टरों की सेवायें मिलती, कसाब होती तो सुरक्षा और एसी मिलता, अफ़ज़ल होती तो चिकन मिलता… कांग्रेस और सेकुलरों का संदेश साफ़ है कि यदि कैदी भी बनना है तो मुसलमान होना होगा तभी 5 स्टार सुविधायें मिलेंगी…

arun arora
Guest

जी हा सही खबर दी आपने यही खबर आप यहा पढ सकते है नवभारत टाईम्स के हिसाब से प्रज्ञा का इस तरह पिटना भी भगवा आतंवाद का ही एक रूप है . http://navbharattimes.indiatimes.com/specialcoverage/3722872.cms शायद इसके संपादक दिवालिया और पागल की श्रेणी से भी उपर उठ गये है उन्हे इस महिलाके उपर हुये अत्याचारो मे भी भगवा आतंअक्वाद दिख रहा है काग्रेस की चमचागिरी और चाटुकारिता के कितना नीचे गिरा जा सकता है ये इसका जवलंत उदाहरण है

wpDiscuz