लेखक परिचय

पंडित दयानंद शास्त्री

पंडित दयानंद शास्त्री

ज्योतिष-वास्तु सलाहकार, राष्ट्रीय महासचिव-भगवान परशुराम राष्ट्रीय पंडित परिषद्, मोब. 09669290067 मध्य प्रदेश

Posted On by &filed under ज्योतिष, राशिफल.


वृश्चिक राशी (तो,ना,नी,नू,ने,नो,या,यी,यू ) का राशिफल(2012 )—-

 

2012 का यह राशिफल चन्द्र राशि आधारित है और वैदिक ज्‍योतिष के सिद्धान्‍तों के आधार पर तैयार किया गया है।

नए साल की शुरुआत सकारात्माक व शुभ होगी | परिवार में माता-पिता, बड़े बुजुर्गो का सम्मान करे तथा उनके सुझाव का पालन करे तो कभी भी दुखी नहीं होंगे, कामयाबी अवश्य मिलेगी तथा उनके आशीर्वाद से जीवन में सुख-शांति बनी रहेगी | उच्चाधिकारी के साथ कटु संबंधों में सुधार होगा | वाहन चलाते समय सावधानी बरतें अन्यथा कोई दुर्घटना घट सकती है। अपने स्वास्थ्य के प्रति विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। लेकिन कार्यों में सफलता प्राप्त होगी। पति पत्नी में तनाव की स्थिति रहेगी। आप पर झूठा आरोप लगाने की फिराक में हैं, सावधानी बरतें.किसी वाद-विवाद में पड़ने से बने बनाए काम बिगड़ सकते हैं. किसी का दिल न दुखाएं. किसी नए कामकाज की शुरुआत करने से पहले सभी पहलुओं पर विचार कर लें.शनि की साढ़ेसाती प्रगति में बाधा पहुचाएगी। संतान की ओर से सुखद समाचार मिल सकता है | विद्यार्थियों के लिए समय अनुकूल है | पैसे और वित्त के मामले में समय अनुकूल है. जो लोग कानूनी पेशे में हैं उनके लिए समय भाग्यशाली होगा. अवैध स्रोतों से कमाई कर रहे हैं उनके लिए समय अनुकूल है. दिल की आवाज सुनें और जी-जान से काम करें. कामयाबी ज़रूर मिलेगी. माता-पिता के आशीर्वाद से जीवन में सुख-शांति रहेगी. बॉस के साथ संबंधों में सुधार होगा. शत्रु शांत रहेंगे. पिता और भाई से विवाद हो सकता है. वाहन चलाते समय अति‍रिक्‍त सावधानी बरते जाने की जरूरत है. मद्यपान करते समय संयम रखें.वर्ष के मध्य में समय ठीक नहीं रहेगा, अनेक प्रयास के बाद भी कार्य बाधित होगा व लाभ में कमी आएगी, शत्रु प्रभावी होंगे साथ ही मन भी अशांत व चिंतित रहेगा |संतान की ओर से सुखद समाचार मिल सकता है.नया घर या वाहन खरीद सकते है. विद्यार्थियों के लिए समय अनुकूल है. वर्ष के मध्य में समय ठीक नहीं रहेगा, कोशिशों के बावजूद काम बनते नज़र नहीं आएंगे. मन अशांत रहेगा. सितम्बर से समय आपके पक्ष में होने लगेगा. अधिकारियों से संबंध अच्छेए होंगे, जो आपको दीर्घकालिक लाभ देंगे. ससुराल पक्ष की ओर से सहयोग मिलेगा. आर्थिक मोर्चे पर हालात बहुत बेहतर रहेंगे. कंप्‍यूटर व्‍यवसाय से जुड़े लोगों के लिए वक्‍त काफी अच्‍छा रहने वाला है. व्यापार व्यवसाय में वृद्धि होगी जो लोग कर्ज-ब्याज आदि कार्य करते हैं। उन्हें तनाव रहेगा। जो लोग कब्ज या पाइल्स के रोगी है। उनकी समस्या बढे़गी। वर्ष के अंत से समय फिर से आपके पक्ष में होने लगेगा, जो आपको दीर्घकालिक लाभ देगा | शत्रु शांत रहेंगे |

स्वास्थ्य —-

गुरू छठे स्थान पर स्थित है इस कारण पेट से संबंधित रोगों में इज़ाफा हो सकता है. गुरू के छठे भाव में होने के कारण त्रिदोष में असंतुलन पैदा हो सकता.. पेट से संबंधित समस्या आपको परेशान कर सकती है. आप एलर्जी कि समस्या से ग्रस्त हो सकते हैं.कफ दोश के कारण बुखार, कान के रोग, बेहोशी जैसी समस्याएं उत्पन्न होने की संभावना बन रही है .महिलाओं को पेट या गर्भाशय के संक्रमण से संबंधित समस्या हो सकती हें..राहु के कारण भी आपका स्वास्थ्य चिंताजनक बना रहेगा ..आपके चेहरे और सर पर कट या चोट के लग सकती है,

ये करें उपाय—

01 .–भगवान हनुमान जी की सेवा-आराधना करें..

02 .-मंगल या शनिवार के दिन सुन्दरकाण्ड या पंचमुखी हनुमान कवच का पथ लाभकारी रहेगा

03 ..हनुमान जी को चोला चढ़ाएं..

04 .–मंगलवार के दिन गोमाता को रोटी में गुड रखकर खिलाएं

05 .-मूंगा,लाल गोमेद,ओनेक्स लाल हकिक,तामडा ..इनमे से कोई भी रत्न/उपरत्न लोहे की अंगूठी बनवाकर (पुनर्वसु नक्षत्र में) मध्यमा अंगुली में धारण करें..

06 .–सत्ताईस मंगलवार किसी अंगहीन मनुष्य को मीठा भिजन खिलाएं..

07 .–सत्ताईस मंगलवार तक हनुमान जी को सिंदूर अर्पित करें..

08 .–मंगल यंत्र की पूजा करें..

 

वास्तु और वृश्चिक राशी के जातक–

इस राशी के जातकों के लिए इशान(उत्तर-पूर्व) दिशा शुभ-लाभकारी होती हें..इस राशी वाले जातक को अपने निवास/आवास पर गुलाबी,मोंगिया लाल रंग करवाना फायदा देगा..इस राशी वाले जातक को किसी भी शहर के पूर्वी भाग/हिस्से में निवास नहीं करना चाहिए..

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz