लेखक परिचय

प्रवक्‍ता ब्यूरो

प्रवक्‍ता ब्यूरो

Posted On by &filed under प्रवक्ता न्यूज़.


चौथी दुनिया ने अपने इन्टरनेट टीवी के न्यूज स्कूप में ये खुलासा किया है, की आई पी एल के कई बड़े अधिकारी गिरफ्तार हो सकते हैं, अगर इस खबर की मानें तो आई पी एल में जिस प्रकार फोरेन एक्स्चेंज(FEMA) कानून का मजाक बनाया गया है, उसके कारवाई में अगले २४ घंटे में ललित मोदी सहित आई पी एल के कई बड़े आला अधिकारी गिरफ्तार किये जा सकते हैं.

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के घालमेल को लेकर केंद्र सरकार अब जाग चुकी है. लीग के क्रियाकलापों को लेकर कानूनी कार्रवाई शुरू हो चुकी है. वित्त मंत्रालय से लेकर फोरेन एक्स्चेंज रेगुलेट्री ऑथोरिटी तक पुरी तरह सकते में आ गयी है और इसके हर पहलु की जांच का काम शुरू कर दिया है. जहीं – तहीं छापे मारे जा रहे हैं. टीमों की खरीद-बिक्री की प्रक्रिया से लेकर पैसों के लेनदेन, टैक्स चोरी और मैच फिक्सिंग के आरोपों तक की जांच हो रही है. ललित मोदी सहित आई पी एल के कई बड़े अधिकारी के लिए अब बचाव का कोई रास्ता नहीं दिखता. आज भले अखबार से लेकर न्यूज चैनल तक आईपीएल और मोदी के खिलाफ बढ़-चढ़कर लिख बोल रहे हों, लेकिन सच तो यही है कि थोड़े दिनों पहले तक यही मीडिया मोदी के गुण गाते नहीं थकती थी.

चौथी दुनिया ने इससे पहले भी आई पी एल में मैच फिक्सिंग को लेकर एक स्टोरी की थी, और आई पी एल को ‘इंडियन फिक्सिंग लीग, की संज्ञा दी थी.

Leave a Reply

2 Comments on "आई पी एल के कई बड़े अधिकारी ललित मोदी सहित गिरफ्तार हो सकते हैं!"

Notify of
avatar
Sort by:   newest | oldest | most voted
satish mudgal
Guest
It is an irony that we see only what the others want to show us. First they show us a business as a game and we took interest like a game and IPL, BCCI & media earned Crores in the name of Game but purely from a business activities. After exposing of a Union Minister ( We can also say Twitter Minister / Human Minister not a cattle Minitster ) into this loot of public money Government seems to make the IPL Chairman Lalit Modi a law breaker but they also want on the same time, this IPL as a… Read more »
सुनील पटेल
Guest
सुनील पटेल

मीडिया ने ही क्रिकेट को देव खेल का दर्जा दिया है. आम व्यक्ति के पास क्रिकेट देखने का वक़्त ही कहाँ है (आम व्यक्ति मतलब वह जिन्हें आजादी के समय अंग्रजो के छोड़े गए तीन वायरस *अंग्रजी, चाय और क्रिकेट’ मैं से क्रिकेट के विषाणु नहीं लगे हो.).

wpDiscuz