लेखक परिचय

अन्नपूर्णा मित्तल

अन्नपूर्णा मित्तल

एक उभरती हुई पत्रकार. वेब मीडिया की ओर विशेष रुझान. नए - नए विषयों के लेखन में सक्रिय. वर्तमान में कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय से पत्रकारिता में परस्नातक कर रही हैं. समाज के लिए कुछ नया करने को इच्छित.

Posted On by &filed under खान-पान.


सामग्री (Ingredients)

350 ग्राम गेहूं का आटा (350gm wheat flour)

125 ग्राम गुड़ (125gm Molasses)

तेल या घी (oil or ghee)

 

विधि – (process)

आटे को छान कर किसी बड़े बर्तन में निकाल लीजिये। गुड़ को किसी बर्तन में डालिये, 3 कप पानी के साथ आग पर गरम होने के लिये रख दीजिये, गुड़ घुलने पर धीमी आग पर गुड़ को पकने दीजिये। आग बन्द कर दीजिये। गुड़ के पानी को ठंडा होने पर छलनी से छान लीजिये। छने आटे में गुड़ का पानी डालिये और आटे को हाथ से इस तरह घोलिये कि आटे में गुठलियां न पढ़े। आटे के घोल को पकोड़े के घोल से पतला रखना है, और पानी की आवश्यकता हो तो डाला जा सकता है। अब इस घोल में एक टेबल स्पून तेल डालकर, घोल को अच्छी तरह फैट लीजिये, तैयार घोल को ढककर, 15-20 मिनिट के लिये रख दीजिये। चीले बनाने के लिये घोल तैयार है।

तवा आग पर गरम होने के लिये रखिये। तवे पर तेल की 2-3 बूंदे डालकर तवा को कपड़े से पोंछ लीजिये। एक बड़ा चमचा घोल भरकर तवे पर डालिये, उसी चमचे की सहायता से, जल्दी से घोल को पतला, 10-12 इंच के व्यास में तवे पर फैलाइये (चीला दोसे की तरह ही तवे पर फैलाया जाता है)। चीला के चारों ओर थोड़ा सा तेल डालिये और थोड़ा सा तेल चीला के ऊपर भी डालिये। एक चीला के लिये 2 छोटी चम्मच तेल पर्याप्त है।

मीडियम आग पर चीला को सिकने दीजिये। ऊपरी परत का कलर बदल कर गहरा हो जाय और निचली परत ब्राउन सिक जाय, तब चीला को कलछी से किनारे को उठाते हुये पलटिये और दूसरी ओर सिकने दीजिये। दूसरी ओर हल्की चित्ती आने पर चीला को उतार कर, किसी प्लेट में अल्यूमीनियम फाइल या किचन नैपकिन पेपर बिछा कर रखिये। इसी तरह सारे चीला बनाकर प्लेट में लगाकर रख लीजिये।

 

परोसने का तरीका (process of serving) – ठंडे या गरम स्वादिष्ट मीठे चीला, चटनी, अचार, मटर आलू की गाड़ी सब्जी और दही के साथ परोसिये और खाइये।

 

 

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz