लीक से हटकर है अलका सिन्हा का उपन्यास – जी-मेल एक्सप्रेस

Posted On by & filed under प्रवक्ता न्यूज़

‘जी–मेल एक्सप्रेस’ पुरुष वेश्यावृत्ति जैसे बेहद अछूते किन्तु जरूरी विषय को केंद्र में लाने की महत्त्वपूर्ण पहल है। अलका सिन्हा को इस उपन्यास के जरिये स्त्री विमर्श, बदलते पारिवारिक मूल्य और बदलते हुए समाज का स्पष्ट चित्रण करने में पर्याप्त सफलता मिली है और इसके लिए वह बधाई की पात्र हैं। उक्त बातें राजधानी दिल्ली के रूसी विज्ञान एवं संस्कृति केंद्र में अलका सिन्हा के उपन्यास ‘जी-मेल एक्सप्रेस’ के लोकार्पण समारोह की अध्यक्षता करते हुए गोवा की राज्यपाल एवं वरिष्ठ साहित्यकार मृदुला सिन्हा ने कही। उन्होंने कहा कि अलका ने इस उपन्यास में बहुत ही दृढ़ता के साथ एक ऐसे अछूते विषय को उठाया है जिस पर इससे पहले किसी और ने नहीं लिखा है। पुरुष वेश्यावृत्ति कोरी कल्पना नहीं है, यह वास्तविकता है। उसने लीक से हटकर नई बात की है और सबकी आँखें खोली है।