मोदी का राष्ट्रवाद क्या है?

Posted On by & filed under राजनीति

प्रसिद्घ क्रांतिकारी रामनाथ पाण्डेय की अवस्था जब 15-16 वर्ष की ही थी, तब ‘काकोरी षडय़ंत्र केस’ में अंग्रेज सरकार ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था। चूंकि इनके पिता बचपन में  ही मर गये थे, इसलिए इनके पूरे परिवार के भरण-पोषण का दायित्व भी इन्हीं के ऊपर था। जेल में इन्होंने पंद्रह दिन का अनशन भी… Read more »