वर्ष 2011 में क्या मिलेगे यक्ष प्रश्नों के उत्तर?

Posted On by & filed under विविधा

मृत्युंजय दीक्षित समय चलता रहता है वह कभी नहीं रूकता और नहीं किसी यातायात व्यवस्था का इंतजार करता है न ही किसी के भाग्य धर्म, अर्थ और काम की चिंता करता है ।बिना किसी तनाव व अस्वस्थता के वह बराबर चलता रहता है। लेकिन फिर भी समय के अनुसार परिवर्तन होता रहता है। यह समय… Read more »