यहां कुत्ते रहते हैं

Posted On by & filed under बच्चों का पन्ना

बहुत दिनों बाद इंदौर आना हुआ तो पुराने साथियों की याद आ गई|जय प्रकाश गुप्ता और मैं कई साला एक ही विभाग में काम करते रहे|नदी के उस पार ‘क्षिप्रा’ में मैं पदस्थ था और वह इस पार ‘बरलई’ में|वहीं रहते हुये उसने इंदौर में एक प्लाट खरीदकर मकान बनवा लिया था| एक बार में… Read more »