‘सेकंड ऑर्डर ऑफ मेरिट ऑफ दी राइजिंग सन’ रास बिहारी बोस

Posted On by & filed under विविधा

-शैलेन्द्र चौहान- यूरोप में युद्ध आरंभ हो चुका था। भारत की अधिकतर सेना युद्ध भूमि पर भेजी गई थी। ३०,००० लोग , जो घर पर थे, ऐसे कई भारतीय थे, जिनकी निष्ठा आसानी से जीती जा सकती थी। ऐसी स्थिति में, विशेषकर लॉर्ड हार्डिंग बम घटना के पश्चात, एकमात्र नेता के रूप में रास बिहारी बोस को… Read more »