ये तमाशे और हम

Posted On by & filed under विविधा

देश में एक तमाशा स्वदेशी के नाम पर चीनी सामान के विरुद्ध चल रहा है। चीन से कई लाख करोड़ के माल के आयातक हम और हमारी सरकार इस आयत को कम करने की कतई इच्छुक नहीं दिख रही हां जनता ने जरूर कई हज़ार करोड़ के चीनी माल के बहिष्कार का रास्ता खोल दिया। शायद सरकार जन भावनाओं को समझ कोई पहल करे।