अकर्मण्यता को बढ़ावा देने वाली योजनाएं

Posted On by & filed under आर्थिकी, राजनीति

-सुवर्णा सुषमेश्वरी भारत विभाजन पश्चात हमारे देश में भारत में अकर्मण्यता को बढ़ावा देने वाली योजनाओं की भरमार रही है। लोकतांत्रिक विवशता व राजनैतिक तदर्थवाद के चलते भारत में अकर्मण्यता और सुस्ती को बढ़ावा देने वाली योजनाएं बनती रही हैं। इनसे देश की अधिसंख्य जनता निष्क्रय, अकर्मण्य एवं आत्मसम्मान से रहित होती गई है। इन… Read more »

महाशक्ति नहीं वरण मुफ्तखोरों का देश बना रही हैं अनुदान आधारित अर्थात खैराती योजनायें

Posted On by & filed under जरूर पढ़ें

-अशोक “प्रवृद्ध”- विभाजन के पश्चात् हमारे देश भारतवर्ष में अधिकांश समय तक केन्द्र की सत्ता में सत्तासीन रहने वाली कांग्रेस सहित उसकी सभी धर्मनिरपेक्ष सहयोगी राजनैतिक पार्टियां और अब केन्द्र में तथा राज्यों में कुछ हद तक भारतीय जनता पार्टी भी अपनी वोट बैंक बनाने के उद्देश्य से आम जनता को भान्ति-भान्ति के अनुदान आधारित योजनाएं… Read more »