जनप्रतिनिधि: लाईसेंस समाज सेवा का या गुंडागर्दी का?

Posted On by & filed under विविधा

क्या हमारे देश की राजनीति जो कभी महात्मा गांधी,पंडित जवाहरलाल नेहरू,सरदार पटेल,लाल बहादुर शास्त्री,डा० राममनोहर लोहिया,बाबा साहब भीमराव अंबेडकर तथा मौलाना अबुल कलाम आज़ाद जैसे देश के महान नेताओं को आदर्श मानकर चलती थी वही राजनीति अब गुंडों,बदमाशों,अपराधियों,मवालियों तथा समाज में दंगा-फ़साद फैलाने ,हिंसा का मार्ग अपनाने तथा दूसरों को अपमानित करने में अपनी शान समझने वाले लोगों के हाथों जा चुकी है?