क्या अपसंस्कृति और उपभोक्तावाद के प्रवक्ता हैं टीवी चैनल

Posted On by & filed under प्रवक्ता न्यूज़

-संजय द्विवेदी टीवी चैनलों की धमाल को रोकने के लिए शायद यह सरकार का पहला बड़ा कदम था। ‘बिग बास’ और ‘राखी का इंसाफ’ नाम के दोनों कार्यक्रमों को रात्रि 11 बजे के बाद प्रसारित करने का फैसला एक न्यायसंगत बात थी। दोनों आयोजन भाषा और अश्लीलता की दृष्टि से सीमाएं पार कर रहे थे।… Read more »