क्या साबित कर रही ‘हिसा हिलाल’ इस्लाम की प्रतिक्रियावादी व्याख्या के विरुद्ध…..

Posted On by & filed under समाज

–अनिल अनूप हिजाब या बुरके के पीछे सिर्फ मुस्सिम कट्टरपंथ की शिकार ही नहीं छिपी होती, बल्कि रेडिकल विचार भी पनप रहे होते हैं, यह सऊदी अरब की कवयित्री हिसा हिलाल ने साबित कर दिया है। सऊदी अरब वह मुल्क है, जिसने इस्लाम की सबसे प्रतिक्रियावादी व्याख्या अपने नागरिकों पर थोपी हुई है। इसकी सबसे… Read more »