अलगाववादी जमात का हिस्सा बनते बुद्धिजीवी

Posted On by & filed under हिंद स्‍वराज

प्रमोद भार्गव अतिरिक्त उदारता और छद्म धर्मनिरपेक्ष चेहरा बनाए रखने की दृष्टि से कुछ भारतीय बुद्धिजीवी अलगाववादी जमात का हिस्सा बनते जा रहे हैं। कश्मीर जैसे ज्वलंत मुद्दे पर कथित बुद्धिजीवियों की यह स्थिति और मानसिकता राष्ट्र की संप्रभुता व अखण्डता के लिए खतरे का संकेत है। हालांकि कश्मीर समस्या के तीसरे विकल्प, मसलन स्वतंत्र… Read more »