भिक्षावृत्ति: बेचारगी में छुपा एक व्यवसाय

Posted On by & filed under समाज

भिक्षावृत्ति के पक्ष और विपक्ष में अलग-अलग गणमान्यों के चर्चा के उपरान्त मुझे दो परस्पर विरोधाभासी राय मिली । पहले पक्ष ने राय दी कि सुपात्र को दान देना उचित है, कुपात्र को दान देना पाप है । अब आपको तय करना है कि भिक्षुक सुपात्र है अथवा कुपात्र है। दूसरे पक्ष द्वारा मिली राय के अनुसार जो भिक्षुक आपके पास याचना लेकर आया है, उसकी यथासंभव मदद करनी चाहिए ।