श्रीमद्भगवद्गीता और भारतीय सामाजिक दर्शन

Posted On by & filed under धर्म-अध्यात्म

-बी एन गोयल-   गीता गंगा च गायत्री सीता सत्य सरस्वती। ब्रह्मवल्ली ब्रह्मविद्या त्रिसंध्या मुक्तिगेहिनी। । अर्धमात्रा चिदानंदा भवध्नी भयनाशिनी। वेदत्रयी परानन्ता तत्वार्था ज्ञानमंजरी।। ये गीता के 18 नाम हैं।  ऐसा माना जाता है कि यदि शांत एवं निश्चिन्त भाव से इन नामों का जाप किया जाये तो ज्ञान सिद्धि तो होगी ही – अंत में मोक्ष प्राप्ति… Read more »