कार्टून: क्या छात्रों का दिमाग बदलने की साजिश है ?

Posted On by & filed under समाज

प्रमोद भार्गव एनसीइइारटी की पाठयपुस्तकों में छपे काटूनों को लेकर संसद में एक बार विवाद फिर गहरा गया है। जबकि डाक्टर भीमराव आम्बेडकर से जुड़े विवाद की आग अभी ठण्डी भी नहीं पड़ी है। दरअसल कक्षा नौ, दस और ग्यारहवीं में पढ़ार्इ जाने वाली डेमोक्रेटिक, पालिटिक्स नामक पुस्तक में देश के राजनीतिकों को आपतितजनक ढंग… Read more »