असम नहीं आसान !

Posted On by & filed under राजनीति

कितना अजीब लगता हैं जब खबरों की दुनिया का एक बङा तबका इलैक्ट्रानिक मीङिया , प्रत्युषा बनर्जी के मौत पर घंटो – घंटो के एपिसोङ दिखाता हैं और तो और प्रिंट मीङिया का भी एक बङा तबका इस खबर को इतनी तवज्जो देता हैं कि इस खबर पर सम्पादकीय छाप देता हैं और इस खबर… Read more »