समग्र विकास के लिए हितधारक भागीदारी संवर्धन एवं भारतीय कोरपोरेट क्षेत्र का विकास

Posted On by & filed under आर्थिकी

-आर बंदोपाध्याय आर्थिक सुधार, जो 1980 के दशक में शुरू किया गया और मौजूदा दशक में जिसे नयी दिशा दी गयी, के साथ भारतीय कोरपोरेट क्षेत्र लगातार विकास कर रहा है और लगातार वैश्विक अर्थव्यवस्था का अभिन्न हिस्सा बनता जा रहा है। जहां पिछली सहस्राब्दि के अंतिम दशक में विदेशी कंपनियों ने भारत में खूब… Read more »