दारा शिकोह व्यक्तित्व और कृतित्व

Posted On by & filed under शख्सियत, समाज

डा. राधेश्याम द्विवेदी सामान्य परिचयः-मुगल बादशाह शाहजहां जब 67वर्ष का हो चुका तो उसे अपने उत्तराधिकारी की चिन्ता सताने लगी थी। उसके तथा मुमताज महल के चार जीवित पुत्र थे। सभी व्यस्क थे तथा सभी को अलग-अलग प्रान्तों के सेनाओं के नायकत्व का अनुभव था। उनमें भाईचारे का कोई भाव नहीं था। सब एक दूसरे… Read more »